सीबीआई प्रमुख राकेश अस्थाना सुप्रीम कोर्ट ने ये कहा


Alok Vermacbi CBI Director CVC kya hai आलोक वर्मा के भाग्य को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को कहा कि केन्द्रीय सतर्कता आयोग की जांच रिपोर्ट सीबीआई प्रमुख के खिलाफ उनके उप राकेश अस्थाना द्वारा लगाए गए कुछ आरोपों पर "जांच रही है।

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अगुआई वाली खंडपीठ ने खुली अदालत में खुलासा किया कि सीवीसी पूछताछ के बाद वर्मा को कोई क्लीन चिट दी थी, जिसका पर्यवेक्षण पूर्व शीर्ष न्यायालय के एके पटनायक ने किया था।


  अस्थाना को नहीं मिलेगी रिपोर्ट चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुआई वाली बेंच ने शुक्रवार को हुई सुनवाई में कहा कि सीवीसी की रिपोर्ट अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल और सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता को भी दी जानी चाहिए। सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना ने भी सीवीसी रिपोर्ट दिए जाने की दरखास्त की थी लेकिन कोर्ट ने इसे नहीं माना। सीवीसी की जांच की निगरानी शीर्ष कोर्ट के पूर्व जज जस्टिस एके पटनायक कर रहे हैं।

  सॉलिसिटर जनरल से कहा- ताज्जुब है! आपके पास रिपोर्ट नहीं है सुनवाई के दौरान सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा-, ‘‘मेरे पास सीवीसी रिपोर्ट की कॉपी नहीं है।’’ इस पर चीफ जस्टिस ने पूछा, ‘‘आप कौन’’। मेहता ने जवाब दिया, ‘‘मैं सीवीसी की आेर से हूं।’’ इस पर चीफ जस्टिस ने कहा, ‘‘ताज्जुब है! आप रिपोर्ट के लेखक हैं और आपके पास ही रिपोर्ट नहीं है।’’

  माेइन कुरैशी के मामले की जांच से शुरू हुआ रिश्वतखोरी विवाद 1984 आईपीएस बैच के गुजरात कैडर के अफसर अस्थाना मीट कारोबारी मोइन कुरैशी से जुड़े मामले की जांच कर रहे थे। कुरैशी को ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग को आरोपों में पिछले साल अगस्त में गिरफ्तार किया था। जांच के दौरान हैदराबाद का सतीश बाबू सना भी घेरे में आया। एजेंसी 50 लाख रुपए के ट्रांजैक्शन के मामले में उसके खिलाफ जांच कर रही थी। सना ने सीबीआई चीफ को भेजी शिकायत में कहा कि अस्थाना ने इस मामले में उसे क्लीन चिट देने के लिए 5 करोड़ रुपए मांगे थे। इनमें 3 करोड़ एडवांस दिए गए। 2 करोड़ रुपए बाद में देने थे। वहीं, अस्थाना का आरोप है कि सीबीआई चीफ आलोक वर्मा ने ही 2 करोड़ रुपए की घूस ली।

0 Response to "सीबीआई प्रमुख राकेश अस्थाना सुप्रीम कोर्ट ने ये कहा"

Post a Comment

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel