दलित का मतलब अर्थ अनुसूचित जाति what is dalit meaning in hindi

What is dalit meaning in hindi today india दलित शब्द संस्कृत के दल से बना है जिसका मतलब है टूटा हुआ किसी चीज का टुकड़ा या हिस्सा या फिर दबाव और बिखरा हुआ

सबसे पहले महाराष्ट्र के समाज सुधारक ज्योतिबा फुले ने दलित शब्द का इस्तेमाल शुरू किया था ज्योतिबा फुले का जन्म वर्ष 1827 और मृत्यु 1890 हुई थी यानि दलित शब्द का प्रचार 19वीं शताब्दी में शुरू हुआ था

दलित का मतलब अर्थ उपयोग


इसके बाद भीमराव अंबेडकर ने अपने भाषणों में दलित शब्द का सबसे ज्यादा प्रयोग किया 1973 में दलित पैंथर्स नाम का एक संगठन काफी लोकप्रिय हुआ था क्योंकि इसमें दलितों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति को मजबूत करने की कोशिश की थी

लेकिन समय के साथ हर कोई आगे बढ़ता चला गया ओर दलित वहीं रह गए पर दलित शब्द को मिटाने के लिए संघर्ष किया जाए कमजोरी को मिटाने के लिए देश की सरकारों देश के नेताओं और खुद दलितों को इतनी मेहनत करनी होगी 

जिससे दलित शब्द का अर्थ ही हमेशा के लिए बदल जाए जिस दिन ऐसा हो जाएगा उस दिन सामाजिक रूप से पिछड़े हुए लोग खुद को दलित कहना बंद कर देंगे और आरक्षण की मांग को भी छोड़ देंगे

  what is dalit meaning in hindi br ambedkar books 

डॉ br अम्बेेेडकर ने दलित को संगठित करने की कोशिश की थी वह चाहते थे कि सारे दलित एक साथ आ जाएं इकट्ठे हो जाएं लेकिन वर्ष 1956 में भीमराव अंबेडकर की मृत्यु के बाद

 दलित आंदोलन और दलित राजनीति समाप्त होने लगी होने लगी और हमारे देश में दलितों के वोटों का सबसे बड़ा हिस्सा देश में सबसे लंबे समय तक राज करने वाली पार्टी कांग्रेस के हिस्से में चला गया इंदिरा गांधी ने दलित नेता जगजीवन राम को कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष बनाया था और इसे इंदिरा गांधी की दलित राजनीति का मास्टरस्ट्रोक उस समय माना गया था अगली पोस्ट में बताऊंगा दलित आन्दोलन दलित जातियां दलित आंदोलन अनुसूचित जाति का अर्थ दलितों की स्थिति दलितों का शोषण भारत में दलितों की स्थिति दलित आंदोलन के कारण

0 Response to "दलित का मतलब अर्थ अनुसूचित जाति what is dalit meaning in hindi"

Post a Comment

Thanks for your valuable feedback.... We will review wait 1 to 2 week 🙏✅

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Follow on