Featured Posts

जारी हुआ आधार पेमेंट एप नही लगेगा कोई पेमेंट सर्विस फ़ीस..Aadhar Payment App

रविवार से एक नई सुविधा शुरू हो रही है, जिससे आपको खरीदारी का भुगतान करने के लिए न तो मोबाइल की जरूरत होगी, न ही किसी कार्ड या एप की. बस आपका आधार नम्बर ही इसके लिए काफी है. 25 दिसम्बर यानि क्रिसमस के दिन केंद्र सरकार इस आधार पेमेंट एक को लॉन्च करने जा रही है. इससे बाजार के मौजूदा खिलाड़ियों के बिजनेस को नुकसान पहुच सकता है. आधार पेमेंट सर्विस फ़ीस नही लगेगी.
यह होगा फायदा
एप के बायोमेट्रिक प्रणाली से जुड़े होने की वजह से धोखाधड़ी की शिकायत कम होगी. दुकानदार और कारोबारी आधार पेमेंट एप से भुगतान हासिल कर क्रेडिट या डेबिट कार्ड, पिन और पासवर्ड जैसी प्रक्रियाओं से बच जाएंगे. दुकानदार के पास स्मार्ट फ़ोन और बायोमैट्रिक कार्ड रीडर होना चाहिए.

यह भी पढ़े 30 हजार रूपये किलो इसकी खेती करने से होगा फायदा

सामान खरीदिए और दुकानदार को आधार नम्बर बताकर पेमेंट क्र दीजिए. न तो केश लेकर जाना होगा, न ही एटीएम या डेबिट कार्ड की जरूरत होगी. यहां तक की अगर आपके पास मोबाईल न भी हो तब भी आसानी से पेमेंट कर सकते है. यूआईडीआई के मुताबिक, इस एप का सबसे ज्यादा फायदा उन्हें मिलेगा, जिनके पास स्मार्टफोन नही है. उन्होंने बताया कि इस समय देश के करीब 4 करोड़ आधार नम्बर
बैंक खातों से कनेक्ट हैं. उनका लक्ष्य है कि मार्च 2017 तक देश के सभी आधार कार्डो को बैंक खातों से कनेक्ट कर दिया जाए. अगर आप खरीदार है तो आपके पास आधार कार्ड या उसके नम्बर होना चाहिए. एक बात का ध्यान रखना जरूरी है कि जिसका आधार नम्बर होगा, उसे पेमेंट के समय उपस्थित रहना जरूरी है. आपका आधार नम्बर आपके बैंक खाते से जरूर जुड़ा हो, अन्यथा इस सुविधा का लाभ नही उठा पाएंगे. दुकानदारों के पास एंड्राइड स्मार्टफोन तथा इंटरनेट या डेटा पैक होना जरूरी होगा. इसी के साथ उन्हें अपने फोन पर आधार पेमेंट एप (कैशलेश मर्चेंट एप) भी डाउनलोड तथा इंस्टॉल करना होगा. इस एप से दुकानदार का बैंक खाता जुड़ा रहेगा.

इस कमेंट्स बॉक्स में ✓ Notify me क्लिक करले हम अगले 48 घंटे में आपकी Information इसी साइट पर देने का प्रयास करेगे...विज्ञापन कमैंट्स ना करे अन्यथा 1 घंटे के अंदर हटा दी जाएगी विज्ञापन चार्ज पे कर अपना ads दिखाए Top.HOWFN साइट पर

www.CodeNirvana.in

Copyright © kaise hota hai, how to, mobile phones price in hindi, keemat kya hai | Contact | Privacy Policy | About me