बॉडी लैंग्वेज से ऐसे पड़ता है गलत इम्प्रेशन सुधारे Body Language Tips


कई बार बुरी बॉडी लैंग्वेज किसी की बात का पूरा अर्थ ही बदल सकती है. जैसे कुछ लोगो को अक्सर हाथ बांधकर खड़े रहने की आदत होती है. सम्भवतः ऐसा इसलिए होता है कि लोग नही जानते कि किसी से बात करते समय हाथो को कहा रखे. हाथ बाधकर खड़े रहने वाले व्यक्त्ति को असहज, डिफेंसिव और भरोसा नही करने वाला माना जाता है.


कोशिश यह होनी चाहिए की सुनने वाले को बोलने वाले के हाथ हमेशा दिखते रहे. असल में हाथ नही दिखने से यह भी लग सकता है कि कुछ छिपाया जा रहा है. बात करते समय चेहरे पर हंसी बनाए रखना काफी महत्वपूर्ण होता है. मुस्कुराहट अंतविश्वास, खुलापन, जोश और ऊर्जा दर्शाती है. इससे सुनने वाला भी मुस्कुराता है और बात के पॉजिटिव नोट पर खत्म होने की संभावना अधिक होती है.

यह भी पड़े भारत के सभी राज्यों के वर्तमान मुख्यमंत्री

कुछ लोगो की आदत होती है जो किसी को अटेंशन नही देते. बात किसी से करते हैं. ध्यान कंही और रहता है. जैसे वे बात करते-करते फोन में व्यस्त रहते हैं. यह काफी इरिटेटिंग आदत होती है. ऐसी ही एक आदत है Eye Contact की. अगर बात करते हुए किसी के साथ लगातार नजरे मिलाने की कोशिश ना की जाए तो उसे असहज महसूस होगा. अगर बील्कुल ही Eye Contact न किया जाए तो कॉन्फिडेंस कम आंका जाएगा. इसलिए बिच-बिच Eye Contact बनाना बेहतर होता है. कुछ लोगो को अपने बालों से लगातार खेलने की आदत हो जाती है. यह आदत आसपास के लोगो का ध्यान भी भटका सकती है.

0 Response to "बॉडी लैंग्वेज से ऐसे पड़ता है गलत इम्प्रेशन सुधारे Body Language Tips"

Post a Comment

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel