Story nirbhaya photo original निर्भया कांड दिल्ली में 16 दिसम्बर 2012 ने पुरे देश को हिलाकर रख दिया था. निर्भया के अपराधियों को मिली फांसी की सज़ा को सुप्रीम कोर्ट ने बरकरार रखा हे.

ऐसा पहली बार हुआ हे जब सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर लोगों ने तालियाँ बजाई हे. लेकिन निर्भया के रेपिस्ट मुकेश सिंह की घटिया मानसिकता आपका खून खौलने पर मजबूर कर देगी. Repist Think Nirbhaya gang-rape case आईये जानते हे की क्या घटिया सोच रखता हे वो लड़कियों के बारे में.
Nirbhya Repist’Think And Justice
जब मुकेश सिंह से BBC ने इंटरव्यू लिया था तब उससे इस अपराध के बारे में पूछा गया था. आईये जानते हे उसने क्या कहा था.

1. बलात्कार के लिए लड़के नहीं लड़कियां जिम्मेदार होती हे.

2. ताली कभी एक हाथ से नहीं बजती. 
3. अगर निर्भया के साथ जो हो रहा था, अगर वो उसे चुपचाप होने देती तो हम उसी उसके घर छोड़ देते, मारते नहीं.

4. रात को 9 बजे घर से निकलने वाली लडकियां शरीफ नहीं होती हे.

5. बलात्कार करने वाले को फांसी की सज़ा देना गलत हे. अगर उसे फांसी की सज़ा देंगे तो वो अपराध करने के बाद लड़की को मार देगा.


सच में इन सवाल को पढ़कर हर किसी का खून खौल जायेगा. अपनी कुर्र्ता को अंजाम देने के बाद में इन लोगों की ऐसी घटिया सोच हमारे जेहन में आग लगा देती हे. आप अपनी राय जरुर बताएं.

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..