शरीर के आंतरिक अंगो की स्थिति, हड्डियों की टूट=फुट आदि का पता लगाने के लिए एक्स-रे की जांच की जाती हे. लेकिन एक्स-रे करवाते टाइम कुछ सावधानियां रखनी होती हे, आईये जानते हे उनके बारे में. 
X-Ray Care Tips
अनावश्यक रूप से X-Ray बिलकुल नहीं करवाना चाहिए. डॉक्टर की सलाह पर ही X-Ray करवाएं. X-Ray में आयोनाइजिंग विकिरणों का प्रयोग होता हे, जो शरीर के लिए खतरनाक होती हे.

लाइसेंस देख ले

परमाणु उर्जा नियामक परिषद् या इसकी और से अधिकृत एजेंसी X-Ray सेंटर की जांच करती हे. इसके बाद AERB इन सेंटर्स को लाइसेंस जारी करता हे. सेंटर्स की दीवार पर यह लाइसेंस लगा होना जरुरी हे. यह सुनिश्चित करता हे की मशीनों के लिए क्वालिटी एश्योरेंस, विकिरण की सुरक्षा के लिए रेडिएशन सर्वे किया गया हे.

सुरक्षा उपकरण
ध्यान रखा जाना चाहिए की शरीर के जिस भाग का X-Ray किया जा रहा हे वही हिस्सा किरणों के सम्पर्क में आना चाहिए. जैसे पैर की एक ऊँगली का X-Ray करवाना हे तो पूरा पंजा उसके सम्पर्क में नहीं आना चाहिए. बाकी हिस्से में लेड से बना सुरक्षा कवच पहनना चाहिए. जहाँ से X-Ray करवा रहे हे वहां इस तरह के सुरक्षा उपकरणों की मांग करनी चाहिए.

यह भी पढ़े लडकियां साथी में क्या चाहती हे

समय का ध्यान
X-Ray रूम में कम समय तक रुकना ही ठीक हे. साथ ही मरीज के साथ परिजनों का अनावश्यक जाना और छोटे बच्चों को ले जाना नहीं चाहिए.

क्या ना ले जाएँ
X-Ray करते टाइम कोई भी धातु की चीज अंदर ना ले जाएँ. इससे X-Ray में त्रुटी हो सकती हे. इसके अलावा मोबाइल फोन भी अंदर नहीं ले जाना चाहिए.

महिलाएं ध्यान दे
गर्भधारण की इच्छा रखने वाली महिलाओं को X-Ray की जरूरत पड़ने पर मासिक धर्म के प्रथम दस दिनों में ही परिक्षण कराना चाहिए. गर्भवती महिलाओं को X-Ray परिक्षण नहीं कराने की सलाह दी जाती हे.

check que?.ans

  1. बहुत ही अच्छा article है। ......... very nice with awesome depiction ......... Thanks for sharing this article!! :)

    ReplyDelete

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..