बलगम वाली खांसी का देसी इलाज Balgam wali khansi ka desi ilaj nikalne ka nuskha cough

यहाँ क्लिक कर अपने दोस्तों को बधाई मोबाइल पर भेजे अभी
sukhi balgam wali khansi ke gharelu desi ilaj balgam nikalne ka nuskha balgam wali khansi ke liye syrup gale mein balgam ka ilaj balgam ka ilaj in hindi balgam wali khansi ka syrup balgam nikalne ka tarika balgam wali khansi in english आमतौर पर पहले आपको जुखाम याने की कोल्ड हो जाएगा। यह वायरस एलर्जी से होता है| इसमें शरीर में mucus (कफ) का उत्पादन बढ़ जायेगा और फेफड़े में और श्वास नली में भर जाएगा, कभी-कभी नाक में से पानी बहने लगेगा।आगे जाकर सूजन (inflammation) के कारण कफ़ हो जाता है। तो जानिये gharelu upchar for cough and cold or wazifa for cough बताये गए बलगम वाली खांसी के इलाज से आप पुनर्जीवित (revitalize) हो जाएंगे जब की एलोपैथिक दवाई से सुस्ती होगी और नुकसान होगा

Balgam wali khansi ke lakhshan

  • गला छिला हुआ और दर्द होना।
  • आँखों से खूब पानी आना और जलन होना।
  • माँसपेशियों में दर्द और खिचाव रहना।
  • सर भारी होना और हल्का सर दर्द भी होना।
  • मुँह में कड़वाहट होना।
  • नाख़ून का दरदरा होना।
  • खाने में खुशबू और स्वाद महसूस न होना।  
 आपको खांसी आ जाए तो आप तुरंत कफ़ सिरप या कफ़ विषमकोण (lozenge) का इस्तेमाल करते है। यह महंगे भी होते है और कफ़ को जड़ से नहीं निकालते। यह सिर्फ एक सीडेटिव जैसा काम करते है। सच में अगर कफ को जड़ से हटा दिया जाए तो राहत मिलेगी और शरीर में नवचेतना आएगी।

Read -  रोजाना शहद खाने के फायदे how to use honey 

इसके लिए सदियों से चली आयी home remedies for cough in hindi बेहतरीन है। खांसी का घरेलू इलाज कफ को शरीर से बहार निकल के विष का हरण करके शांति दिलाता है। यह treatment for cough in hindi, cough ke gharelu upay in hindi जो आप पढ़ेंगे वो प्राकृतिक सामग्री के उपयोग से बनते है और इनसे कोई नुकसान नहीं होता है।

कफ खाँसी होने के कारण

  1. वायरल फीवर इन्फेक्शन से सर दर्द, बुखार, खांसी हो जाती है। 
  2. दमा के मरीज को बलगम इकठ्ठा होने से हो जाती है खांसी।
  3. मौसम में अचानक होने वाले बदलाव से खाँसी हो सकती है।
  4. ठण्ड के मौसम में दही और केला खाने से हो जाती है।
  5. गर्म या ठंडा खाना खाने से भी कफ़ हो जाता है।

अदरक, तुलसी, पुदीना, निम्बू और शहद का काढ़ा

  • अदरक, तुलसी और पुदीना का रस निकाले। पानी गर्म करे। 
  • इसमें निम्बू का रस निचोड़ के दूसरे रस मिलाये और एक चम्मच शहद डालकर पी जाए। 
  • पुदीने की चाय भी बहुत फायदेमंद होती है|
  • दिन में 3 बार पीने से सूखी खाँसी से मुक्ति मिलती है। 
  • यह चाय पीते रहे तो शरीर में से बलगम निकल जायेगा और आराम मिलेगा। 

जायफल है लाभकारी खाँसी में

  • नन्हे मुन्ने बच्चे खाँसी से बहुत परेशान हो जाते है और नींद नहीं आती है। 
  • देसी इलाज के लिए जायफल का पेस्ट बना के शहद के साथ मिलाकर उन को दे। 
  • यह आराम पहुंचाएगा और बच्चा चैन की नींद सो सकेगा और आप को भी सोने देगा। यह खाँसी का टोटका बच्चों के लिए बहुत लाभदायक है।

बादाम, माखन और चीनी से करे खाँसी का इलाज

  • बादाम को रात भर भिगोकर रखे और छिलका निकाल के पीस ले। 
  • दूसरे दिन इसमें 2 चम्मच मक्खन और चीनी डाल ले।
  • यह मिश्रण हर रोज सवेरे खाया जाए तो सूखी खाँसी की परेशानी दूर हो जायेगी।

No comments

इस कमेंट्स बॉक्स में ✓ Notify me क्लिक करले हम अगले 48 घंटे में आपकी Information इसी साइट पर देने का प्रयास करेगे...विज्ञापन कमैंट्स ना करे अन्यथा 1 घंटे के अंदर हटा दी जाएगी विज्ञापन चार्ज पे कर अपना ads दिखाए Top.HOWFN साइट पर

Powered by Blogger.