फेक रिव्यूज़ का गंदा खेल कोई भी समान खरीदने से पहले consumers trust online reviews reality hindi fraud website | Top.HowFN

YouTube इंटरनेट पर वीडियो देखकर या वेबसाइट Rating देखकर हम उसी को सच समझ लेते है क्योंकि हमें लगता है यह सौ फ़ीसदी सही और सुरक्षित है लेकिन सच्चाई यह है कि ऐसा है नहीं आजकल online review में मिलावट होने लगी है

88% of consumers trust online reviews as much as personal recommendations

अब तमाम कंपनी फेक रिव्यूज़ की मदद से अपनी तिजोरियां भर रही है और यह सबकुछ आपके भरोसे की कीमत पर हो रहा है जिस तरह आजकल आप फेक न्यूज चारों तरफ देखते हैं अब उसी तरह से ऑनलाइन फेक रिव्यूज़ भी आपको चारों तरफ देखने को मिलने लगा है और आप को इस पर ध्यान देना चाहिए आगे पढ़ेफोजियों के बाल क्यों छोटे किये जाते हे..

आज हम आपको बताएंगे कि इंटरनेट पर फेक review ई कॉमर्स वेबसाइट्स पर किस तरह लिखे जाते हैं और आपको किस तरह धोखा दिया जाता है इसके लिए हम लंदन में रहने वाले एक ऐसे व्यक्ति की मदद लेंगे जिसने सिर्फ एक फोन नंबर और कुछ तस्वीरों के आधार पर फेक रिव्यु से उस देश का सबसे Top का कारोबार बन गया एक बहुत ही दिलचस्प सही जानकारी है ध्यान से सुनिएगा और इस information को सुनकर और देखकर जागरूक बने और दुसरो को भी जाल में फंसने से बचाये
 Koi bhi Saman kharidne se pahle

सर्वे Online reduce fat Global information के अनुसार घर में 66 फ़ीसदी लोग ऑनलाइन रिव्यूज़ पर आंख बंद करके भरोसा करते हैं जबकि एशिया पैसिफिक नई आंकड़ा 70% लोगों का है पिछले वर्ष एक रिपोर्ट आई थी जिसका नाम था एशिया पैसिफिक फ्रॉड इन साइंस का कहना था कि भारत में online fraud Ka Shikar यूज़र्स किसी ना किसी रूप में धोखाधड़ी के शिकार हुए हैं और इसमें से ऑनलाइन रिव्यूज़ भी शामिल है इस रिपोर्ट में भारत सहित एशिया के 10 देशों को शामिल किया गया था और ध्यान देने वाली बात यह है कि एशिया पैसिफिक रीजन में इंडोनेशिया के बाद भारत दूसरा ऐसा देश है जहां सबसे ज्यादा डिजिटल धोखाधड़ी होती है अलग-अलग रिपोर्ट ऑनलाइन क्षेत्र में जन सामान्य को बताने के लिए आती है

Online Reviews ठेके पर रखे जाते हैं और वह किसी कंपनी के पक्ष में या विरोध में रिव्यूज़ बताते हैं ऐसे लोगों को कॉन्ट्रैक्ट पर रखा जाता है उन्हें पैसा दिया जाता है जबकि हम और आप जैसे आम लोगों को कभी भी इस गोलमाल का पता नहीं चलता हम ऑनलाइन रिड्यूस देखते है यूट्यूब पर या किसी वेबसाइट पर पढ़ते हैं उन्हें असली समझ बैठते हैं और उसके आधार पर अपना कोई फैसला ले लेते हैं और इसके लिए स्क्रिप्ट लिखने वालों को बाकायदा पैसा दिया जाता है या फिर वह अन्य लुभावने ऑफर किए जाते हैं हाल ही में एक जांच में यह पाया गया कि Amazon और ट्रस्ट पायलट जैसी वेबसाइट पर भी कुछ ऐसे केस हुए है इन वेबसाइट पर फ्यूज होने का मतलब यह नहीं है कि इस धोखाधड़ी में यह वेबसाइट भी शामिल है आमतौर पर फेंक रिव्यूज़ का यह पूरा कारोबार वंडर्स करते हैं इन वेबसाइट की मदद से अपना सामान बेचते हैं और व्यापार करते हैं आगे जरूर पढ़े8 तथ्य रामायण राम को सत्य साबित कर देती हे

ऐसा करने से उसका पूरा कारोबार एक ही झटके में टॉप पर हुआ है इसके लिए बस एक वेबसाइट बनाई और उसमें खाने पीने से जुड़ी कुछ तस्वीरें पोस्ट कर दी यह सारी तस्वीरें फर्जी थी इस वेबसाइट की खासियत है बताते हुए यह लिखा गया कि वह आपके मूड के हिसाब से खाना मिलता है इसके बाद इस रेस्टोरेंट को ट्रिप एडवाइजर नामक वेबसाइट पर रजिस्टर कराया फिर क्या और इसके लिए इस व्यक्ति ने अपना ही फोन नंबर दे दिया कुछ दिनों के बाद ट्रिप एडवाइजर की तरफ से रेस्टोरेंट के रजिस्ट्रेशन की सूचना भी आ गई इसके बाद किस व्यक्ति ने अपने दोस्तों की मदद से फर्जी रेस्टोरेंट के बारे में Facebook की वेबसाइट पर लिखा गया कि वहां पर लोग सिर्फ ऑनलाइन बुकिंग के जरिए ही आ सकते हैं और वह ओर भी ज्यादा चर्चा में आ गयी जिसकी online rank 18190

उसकी वजह से यह फर्जी रेस्टोरेंट लोगों के बीच मशहूर होता चला गया और इसकी बैंक धीरे-धीरे बढ़ती चली गई और देखते ही देखते यह रेस्टोरेंट तीसरे नंबर पर पहुंच गया जब लोग इस रेस्टोरेंट में बुकिंग के लिए फोन करते थे जो हर बार उन्हें वेटिंग लिस्ट में डाल दिया जाता था लोगों को शक ना हो इसके लिए बीच में कुछ झूंठी तारिफ डाल दी जाती थी
जिनमें लोग यह कहते थे कि 2 हफ्ते के इंतजार के बाद आखिरकार उनका नसीब खुला और उन्हें इस रेस्टोरेंट में जाने का मौका मिला कि लंदन में कोई तो ऐसा रेस्टोरेंट खोला है जहां पर जो हमेशा फूल रहता है और वहां 2 से 3 हफ्ते की वेटिंग लिस्ट रहती है ऐसे ही इनका ऑनलाइन व्यापार लंदन का नंबर वन बन गया जबकि यह पूरा फेक था लोग ने पूछा हमे कमेंट से online review statistics 2017 online review statistics 2016 online review statistics 2018 local consumer review survey 2016 consumers use the internet to find local businesses online reviews influence purchasing behavior importance of customer reviews importance of online reviews 2017
तो सिर्फ ऑनलाइन तारिफ सुनकर या देखकर कोई सामान ना खरीदे ओर धोके से बचे

कोई भी सवाल पूछे ?.या Reply दे

इस कमेंट्स बॉक्स में ✓ Notify me क्लिक करले हम अगले 48 घंटे में आपकी Information इसी साइट पर देने का प्रयास करेगे...विज्ञापन कमैंट्स ना करे अन्यथा 1 घंटे के अंदर हटा दी जाएगी विज्ञापन चार्ज पे कर अपना ads दिखाए Top.HOWFN साइट पर