जानिये स्क्रीन के रखवाले सनस्क्रीन के बारे में..Benifit Of Sunscreen

यहाँ क्लिक कर अपने दोस्तों को बधाई मोबाइल पर भेजे अभी
मौसम चाहे कोई भी हो त्वचा पर युवी किरणों प्रभाव पड़ता हे. कई बार धुप से बचने के साधारण उपाय अपनाने के बाद भी त्वचा प्रभावित हो जाती हे. इससे बचने का एक ही उपाय हे की घर या घर से बाहर निकलते वक्त सनस्क्रीन क्रीम या लोशन का इस्तेमाल जरुर करें. जाने सनस्क्रीन से जुडी बातें. 
Benifit Of Sunscreen

क्या कहती हे रिसर्च
एक शोध के अनुसार उम्र से पहले त्वचा पर पड़ने वाली झुर्रियां, फाइन लाइंस, त्वचा का फटना, झाइया, रंगत पर प्रभावका कारण युवी किरने होती हे. ज्यादा देर तक धुप में रहने से ना सिर्फ त्वचा पर कालापन आता हे, बल्कि त्वचा के हेल्थ से जुडी कुछ गंभीर प्रॉब्लम भी हो जाती हे. सनस्क्रीन लोशन का चुनाव करते टाइम उसमे मौजूद सन प्रोटेक्शन फैक्टर यानी SPF की मात्रा की सही जानकारी जरुर हो. एक्सपर्ट के अनुसार कम SPF यानी 15 की मात्रा वाली सनस्क्रीन लगाना बेहतर रहता हे. लेकिन बढती गर्मी और प्रदूषण के दौरान SPF 15 से लेकर SPF 30 वाले सनस्क्रीन लोशन ज्यादा प्रभावी होते हे. 

यह भी पढ़े 10 तरीकों से उत्तेजित किया तो गर्लफ्रेंड हो जाएगी दीवानी

जाने SPF नंबर के बारे में
सनस्क्रीन में SPF की मात्रा जितनी ज्यादा होगी, त्वचा को अल्ट्रावायलेट B किरणों से होने वाला नुकसान उतना कम होगा. उदाहरण के लिए आपके सनस्क्रीन में SPF की मात्रा 15 हे तो त्वचा को 15 गुना ज्यादा सन प्रोटेक्शन मिलता हे. वहीं अगर सनस्क्रीन का इस्तेमाल किये बगैर धुप में निकलते हे तो त्वचा को 15 गुना ज्यादा नुकसान होता हे. सनस्क्रीन का इस्तेमाल नहीं करने से 20 मिनट के अंदर ही त्वचा झुलस जाती हे. वहीं अगर आप सनस्क्रीन लगाकर बाहर निकलती हे तो आप 4-5 घंटे आराम से बिना किसी परेशानी से धुप में घूम सकती हे.

1 comment:

इस कमेंट्स बॉक्स में ✓ Notify me क्लिक करले हम अगले 48 घंटे में आपकी Information इसी साइट पर देने का प्रयास करेगे...विज्ञापन कमैंट्स ना करे अन्यथा 1 घंटे के अंदर हटा दी जाएगी विज्ञापन चार्ज पे कर अपना ads दिखाए Top.HOWFN साइट पर

Powered by Blogger.