कप्तानी क्यों छोड़ी 5 कारण महेंद्र सिंह धोनी


यह खबर सुनकर तो क्रिकेट के दीवानों को झटका लगा होगा. लेकिन महेंद्र सिंह धोनी ने टी-20 और वनडे से कप्तानी छोड़ी दी हे. इसकी सुचना उन्होंने BCCI को दे दी हे. धोनी का यह फैसला किसी धमाके से कम नहीं हे. वैसे धोनी इग्लैंड के खिलाफ वनडे और टी-20 में मौजूद रहेंगे
धोनी ने 30 दिसम्बर 2014 को आस्ट्रेलिया सीरिज के दौरान टेस्ट मैच से रिटायर होने का फैसला कर चुके हे और अब वनडे और टी-20 से अपनी कप्तानी छोड़ रहे हे. इसका एक कारण ये भी माना जा रहा हे की फॉर्म सही नहीं चलने के कारन उनपर दवाव बनाता और लोग कॅप्टेन्सी छोड़ने को बोलते इसे पहले ही खिसक लो.... 

यह भी पढ़े दाढ़ी रखने के 7 फायदे

धोनी का करियर वास्तव में बहुत ही शानदार और अजेदार रहा हे. उन्होंने 199 वनडे और 72 टी-20 मैच में भारत के लिए कप्तानी की हे. धोनी की कप्तानी में इंडिया ने कई रिकॉर्ड बनाये हे और भारतीय टीम में उनका योगदान बहुत ही शानदार रहा हे... कहते हे विराट से उनके सम्बन्ध मधुर नहीं थे तो यह भी माना जा सकता हे विराट युवराज के अच्छे दोस्त मने जाते हे तो युवी की बापिसी भी हो सकती हे

भारतीय क्रिकेट टीम में उल्लेखनीय योगदान देने के लिए उन्हें हमेशा याद किया जायेगा. उन्होंने हमेशा अपना बेस्ट दिया हे. चाहे वो कप्तान की भूमिका हो या प्लेयर की भूमिका में. यह आप उनकी फिल्म M.S Dhoni में देख चुके हे.

0 Response to "कप्तानी क्यों छोड़ी 5 कारण महेंद्र सिंह धोनी"

Post a Comment

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel