Latest

मधुमक्खी, बर्र, ततैया, भंवरा, बरसाती कीट अथवा जहरीले कीड़े के काटने पर क्या करें


कई बार हमें पता भी नही चल पाता की हमे किस कीड़े ने काटा है लेकिन दर्द, जलन, छाले आदि हो जाने से परेशान हो जाते हैं. उस समय तुरन्त हमे निम्न उपचार करने चाहिए.

चिकित्सा

1. अमृतधारा को रुई में लेकर तुरन्त लगा ले आराम मिलेगा.

2. अमृतधारा बहुत काम आने वाली चीज है. किसी भी कीड़ा, मच्छर, मक्खी आदि के काटने पर तुरन्त इसे लगाने से आराम मिलता हैं.

आगे पड़े खून की कमी, लक्षण उपाय कैसे दूर करें

3. दियासलाई के मसाले को जल में घिस कर डंक के स्थान पर लगाने से तुरन्त आराम मिलता हैं.

4. मिट्टी के तेल और पिसा हुआ नमक डंक के स्थान पर लगाने से बर्र के दंश में शीघ्र आराम मिलता हैं. मधुमक्खी का जहर तुरन्त उतर जाता हैं.

5. लोहे की पत्ती, कील या चाबी कुछ भी डंक मारने के स्थान पर तुरन्त रगड़ दे और ऊपर से गीले चुने का लेप कर दे. चुना न मिले तो लोहे को मिट्टी के तेल में डुबोकर आहिस्ता-आहिस्ता रगड़े, तुरन्त आराम मिलेगा.

6. काटे स्थान पर तुरन्त तुलसी का रस या तुलसी का पत्ता रगड़े.

7. बर्र के काटने के स्थान पर नींबू का रस या कोई भी खट्टा अचार खटाई मल दे, जलन नही होगी.
जानकारी मदगार हो तो शेयर करे हमें अधिक जाने ClickMe
Please SHARE Whatsapp

0 Response to "मधुमक्खी, बर्र, ततैया, भंवरा, बरसाती कीट अथवा जहरीले कीड़े के काटने पर क्या करें"

Post a comment

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Widgets