गूगल, फेसबुक कर रहा जानकारी लीक google earth for mobile


नई दिल्ली गूगल अर्थ और गूगल मैप पर पठानकोट एयरबेस और आसपास की साफ तस्वीरें उपलब्ध हैं। दूसरे रक्षा प्रतिष्ठानों, परमाणु बिजलीघरों और अन्य संवेदनशील ठिकाने भी साफ नजर आते हैं। लेकिन किसी ने इस पर आपत्ति दर्ज नहीं कराई। इससे सुरक्षा की अनदेखी हो रही है।

 दिल्ली हाईकोर्ट में लोकेश कुमार शर्मा ने एक याचिका दायर कर इस तथ्य की तरफ ध्यान खींचा है। उन्होंने गूगल को रक्षा प्रतिष्ठानों और अन्य संवेदनशील ठिकानों के मैप दिखाने से रोकने का आदेश देने की अपील की है।

चीफ जस्टिस जी. रोहिणी और जस्टिस जयंत नाथ की बेंच ने इस पर कोई अंतरिम आदेश नहीं दिया। लेकिन सरकार से इस मसले को देखने और उसकी जानकारी में लाने को कहा है।

एक और सोचने वाली बात ये हैं। कि इंटरनेट की सभी बड़ी कम्पनिया फेसबुक, व्हाट्सप्प,विकिपीडिया , ट्विटर यहाँ तक की पोर्न साइट्स सभी वेबसाइट विदेशो से चलायी जाती हे जिनके मालिक सब विदेशी हे जिनका भारत देश से कोई सम्बन्ध नहीं और देश की बहुत जरुरी जानकारी इंटरनेट पे ही होती हे। तो अगर भारत देश ने इस इंटरनेट पे कोई लगाम नहीं लगाया तो इसका खामयाजा सभी देश बासियो को भुगतना होगा।

1 Response to

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel