किडनी गुर्दे से विषैले पदार्थों को करें बाहर


symptoms of kidney stone in hindi language how do kidney stones happen stone in kidneys remedies triple phosphate stone kidney stone treatment at home kidney stone treatment without surgery pathri ka ilaj hindi me 
किडनी या गुर्दा हमारे शरीर का प्रमुख अंग है जो खून को साफ कर शरीर के विषाक्‍त पदार्थों को बाहर निकालता है साथ ही रक्‍त की अम्‍लीयता नियंत्रण में रखकर बीमारियों से भी बचाता है।
 किडनी के कार्य
किडनी यानी गुर्दा हमारे शरीर का प्रमुख अंग है जो खून को साफ कर शरीर के विषाक्‍त पदार्थों को मूत्र के रास्‍ते बाहर निकालता है। इसके अलावा यह रक्‍तचाप नियंत्रण, सोडियम व पोटैशियम की मात्रा में नियंत्रण और रक्त की अम्लीयता में नियंत्रण भी करता है। जब किडनी हमारी शरीर में एकत्रित हुई गंदगी को हटाने में अक्षम हो जाती है तो उसे किडनी फेल्योर कहा जाता है। इसलिए बहुत जरूरी है कि किडनी को विषैले पदार्थों से दूर रखा जाये और शरीर को बीमारियों से भी बचाया जाये।
खूब पानी पियें
कम पानी पीने से किडनियों को नुकसान हो सकता है। पानी की कमी के चलते किडनी और मूत्रनली में संक्रमण होने का खतरा भी अधिक रहता है। जिससे पोषक तत्वों के कण मूत्रनली में पहुंचकर मूत्र की निकासी को बाधित करने लगते हैं। साथ ही किडनी में स्टोन की आशंका भी बढ़ जाती है। इसलिए दिनभर में कम से कम 2 से 3 लीटर पानी पीने की सलाह दी जाती है।

READ - तांबे के बर्तन से पानी पीने के 15 स्वास्थ्य लाभ फायदे

फल और जूस
ताजे फलों और फलों के जूस का सेवन करने से किडनी से विषाक्‍त पदार्थ बाहर निकलते हैं। दरअसल फलों में पोटैशियम की भरपूर मात्रा होती है जो किडनी को स्‍वस्‍थ रखने में मदद करता है। फलों के साथ हरी और पत्‍तेदार सब्जियों में भी पोटैशियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है। अंगूर, नींबू, संतरा, केला, किवीज, आदि का सेवन करना फायदेमंद है

बेरीज का सेवन करना भी किडनी के लिए फायदेमंद है। इसलिए ब्‍लूबेरी, ब्‍लैकबेरी का सेवन जरूर करें। बेरीज में क्‍वीनाइन नामक पौष्टिक तत्‍व पाया जाता है जो यह खुद को हिप्‍यूरिक एसिड में बदल देता है। हिप्‍यूरिक एसिड यूरिक एसिड को एक जगह जमने से रोकता है जिससे किडनी संबंधित बीमारियों से बचाता है।

धूम्रपान एवं तम्बाकू का सेवन न करें

धूम्रपान एवं तम्बाकू के सेवन से कई गंभीर समस्याएं तो होती ही हैं, लेकिन इसके कराण ऐथेरोस्कलेरोसिस रोग भी होता है। जिससे रक्त नलिकाओं में खून का बहाव धीमा पड़ जाता है और किडनी में रक्त कम जाने से उसकी कार्यक्षमता घट जाती है। इसलिए धूम्रपान और तंबाकू का सेवन करने से बचें।

अन्‍य नुकसानदेह आदतें
किडनी को खराब करने में कुछ अन्य आदतें जैसे, बहुत ज्यादा शराब पीना, पर्याप्त आराम न करना, सॉफ्ट ड्रिंक्स और सोडा का अधिक सेवन करना, देर तक भूखा रहना या दूषित भोजन करना, हाईपरटेंशन का इलाज ना कराना तथा बहुत ज्यादा मांस खाना भी कुछ ऐसी आदते हैं जिनके कारण किडनी को भारी नुकसान पहुंचता है। kidney stone Pathri hindi me

0 Response to "किडनी गुर्दे से विषैले पदार्थों को करें बाहर "

Post a Comment

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel