Baba kaise bane थोड़ा अजीब लगा होगा पढ़ के पर देश में इस समय कई baba business in india ऐसे हैं, जो हजारों करोड़ का बिजनेस खड़ा कर चुके हैं इसमें सबसे टॉप पर रामदेव patanjali company है जिन्होंने पतंजलि को मल्टी नेशनल कंपनियों के लिए एक चुनौती के रुप में खड़ा कर दिया है रामदेव balkrishna ayurveda की तरह श्री श्री रविशंकर भी अपने बिजनेस को तेजी से बढ़ा रहे हैं।

राम रहीम भी अपनी कंपनी एमएसजी ऑल ट्रेडिंग के जरिए 150 से ज्यादा एफएमसीजी प्रोडक्ट बेच रहे हैं।आज हम आपको देश के प्रमुख ऐड गुरूओं के जरिए बता रहे हैं, कि न्यू एज टेक्नोलॉजी के दौर में भी कैसे ये बाबा हजारों करोड़ का बिजनेस खड़ा कर रहे हैं।

आम लोगों का भरोसा जीतना: मॉडर्न बाबा सबसे पहले आम लोगों का भरोसा जीतते हैं। एडगुरू प्रहलाद कक्‍कण ने top.howfn.com को बताया कि बाबा राम देव ने सबसे पहले लोगों को फ्री में योग सिखाया। इसके बाद बाबा राम देव एंटी करप्‍शन मूवमेंट से जुड़े। इसके बाद उन्‍होंने देश में माहौल बनाया कि विदेशी कंपनियां भारत में अपना प्रोडक्‍ट बेच रहीं है और मुनाफा कमा कर पैसा विदेश भेज रहीं हैं। ऐसे में देश को नुकसान होता है। इसके बाद उन्‍होंने अपना प्रोडक्‍ट लांच किया। इसी तरह बाबा राम रहीम के ज्‍यादातर फॉलोअवर्स कम पढ़ लिखे और निचले तबके हैं। उन्‍होंने कई तरह के चैरिटी के काम और मेडिकल सुविधाएं मुहैया करा कर लाखों लोगों का भरोसा जीता। आज ये लोग के बाबा के कहने पर कुछ भी करने को तैयार हैं।

फॉलोअर्स बनाना: सभी बाबा के बिजनेस एम्‍पायर के पीछे उनके लाखों करोड़ों फॉलोअर्स  का बड़ा योगदान है। मॉडर्न बाबा के फॉलोवर्स की उनमें गहरी आस्‍था है। मॉडर्न बाबा अपने फॉलोवर्स से व्‍यक्तिगत रूप से जुड़े रहते हैं और उनकी दिक्‍कतों को दूर करने का दावा करते हैं। एडगुरू प्रहलाद कक्‍कण का कहना है कि मौजूदा समय में भारत में नेताओं का इमेज खराब है। हीरो के तौर पर क्रिकेटर या फिल्‍म स्‍टार्स को लोग देखते हैं। लेकिन ये हीरो लोगों की दिक्‍कतों को दूर नहीं कर सकते हैं। ऐसे में मॉडर्न बाबा लोगों के समक्ष खुद को उनके रहनुमा के तौर पर पेश करते हैं। वे लोगों को भरोसा देते हैं कि वे उनके दुखों या बीमारियों को दूर कर सकते हैं। ऐसे में बड़े पैमाने पर कम पढ़े लिखे और गरीब लोग उनको भगवान मानने लगते हैं।

रोजमर्रा के यूज के लिए प्रोडक्‍ट: इसके बाद मॉडर्न बाबा लोगों के रोजमर्रा के यूज के लिए प्रोडक्‍ट लांच करते हैं। जैसे साबुन, टूथपेस्ट, मसाले और आटा दाल चावल से लेकर शहद जैसे प्रोडक्‍ट लांच करते हैं। ये आम आदमी की जरूरतों के प्रोडक्ट होतें हैं। जिनके जरिए आसानी से अपने फॉलोअर्स में पैठ बनाते हैं। बाबा राम रहीम ने रोजमर्रा के यूज के लिए लगभग 150 उत्‍पाद लांच किए है। ये उत्‍पाद बाबा राम रहीम के लाखों की संख्‍या में मौजूद फॉलोवर्स खरीदते हैं। इसी तरह से आर्ट ऑफ लिविंग के संस्‍थापक श्री श्री रविशंकर ने भी अपने फॉलोवर्स के लिए प्रोडक्‍ट लांच किए हैं।

आम लोगों के विश्‍वास को कंज्‍यूमर कॉन्‍फिडेंस में बदलना
‘बाबा’ ऐसे खड़ा कर लेते हैं बिजनेस एम्पायर, काम करते हैं ये 4 फैक्टर
एडगुरू दिलीप चेरियन का कहना है कि भारत में जो बाबा हैं उनकी बिजनेस स्‍ट्रेटजी बहुत सरल है। वे सबसे पहले ब्रांड के विकल्‍प के तौर पर पर्सनॉलटी को खड़़ा करते हैं। जैसे लोग एक ब्रांड में विश्‍वास करते हैं उसी तरह बाबा लोग अपने फॉलोअर्स की भक्ति को अपने लिए विश्‍वास में बदल देते हैं। बाद में इस विश्‍वास को कन्‍जयूमर कॉन्‍फिडेंस में बदल देते हैं। बाबा लोगों का इसका दो सबसे बड़ा फायदा होता है। पहला कि उनका ब्रांड लोगों के बीच तेजी से जगह बनाता है। और दूसरा उनको अपना प्रोडक्‍ट बेचने के लिए ब्रांड एम्‍बेसडर नहीं चाहिए। वे अपने प्रोडक्‍ट के लिए खुद के ब्रांड एम्‍बेसडर हैं। जैसे बाबा राम रहीम ने भी अपने फॉलोअर्स के लिए प्रोडक्‍ट लांच किए हैं। उनके प्रोडक्‍ट उनके फॉलोअर्स के बीच ही बिकते हैं।

नेटवर्किंग
अपने प्रोडक्ट को लोकप्रिय बनाने के लिए शुरूआत में बाबा अपने फॉलोअर्स का ही सहारा लेते हैं। वह उनके लॉयल कस्टमर होते हैं। जिनके जरिए माउथ पब्लिसिटी से ही उनके प्रोडक्ट लोगों तक पहुंचते हैं। फॉलोअर्स की नेटवर्किंग ही उनका सबसे बड़ा हथियार बनती है। जो आगे चलकर एक बिजनेस एम्पॉयर खड़ा करने में मदद करती है। इसके अलावा रोजमर्रा की चीजें इस्तेमाल होने से वह अपने फॉलोअर्स के बीच हर क्रेडिबिलिटी बनाए रखते हैं।

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..