घनश्याम तेरी बंशी पागल कर जाती है लिरिक्स भजन लिरिक्स

यहाँ क्लिक कर अपने दोस्तों को बधाई मोबाइल पर भेजे अभी
Ghanshyam teri bansi pagal kar jati hai lyrics mp3 song download hd video download dj

घनश्याम तेरी बंसी,
पागल कर जाती है,
मुस्कान तेरी मोहन,
घायल कर जाती है॥
सोने की होती तो,
क्या करते तुम मोहन,
ये बांस की होकर भी,
दुनिया को नचाती है॥

तुम गोरे होते तो,
क्या कर जाते मोहन,
जब काले रंग पर ही,
दुनिया मर जाती है॥

दुख दर्दों को सहना,
बंसी ने सिखाया है,
इसके छेद है सीने मे,
फ़िर भी मुस्काती है॥

कभी रास रचाते हो,
कभी बंसी बजाते हो,
कभी माखन खाने की,
मन में आ जाती है॥

घनश्याम तेरी बंसी,
पागल कर जाती है,
मुस्कान तेरी मोहन,
घायल कर जाती है॥

अगर आपके सवाल ऐसे हो जैसे की  घनश्याम तेरी बंसी पागल कर जाती है भजन घनश्याम तेरी बंशी पागल कर जाती है mp3 तो कमैंट्स करे श्याम तेरी बंसी पागल कर जाती mp3 घनश्याम तेरी बंसी एमपी 3 गीत डाउनलोड घनश्याम तेरी बंसी mp3 घनश्याम तेरी बंसी डाउनलोड घनश्याम तेरी बंसी घायल कर जाती है घनश्याम तेरी मुरली पागल कर जाती है

No comments

इस कमेंट्स बॉक्स में ✓ Notify me क्लिक करले हम अगले 48 घंटे में आपकी Information इसी साइट पर देने का प्रयास करेगे...विज्ञापन कमैंट्स ना करे अन्यथा 1 घंटे के अंदर हटा दी जाएगी विज्ञापन चार्ज पे कर अपना ads दिखाए Top.HOWFN साइट पर

Powered by Blogger.