गर्दन में दर्द लक्षण, कारण और बचाव neck pain treatment at home in hindi - Top.HowFN.com

गर्दन में दर्द लक्षण, कारण और बचाव neck pain treatment at home in hindi

gardan dard ka ilaj in hindi gardan ka dard hindi gardan main dard gardan me dard ka ilaj darman gardan dard gardan ke dard ki dua neck me dard gardan ka dard 
गर्दन का दर्द गर्दन की बनावट में आई गड़बड़ी के कारण होने वाला रोग है. मानव शरीर में रीढ़ की हडडी के ऊपरी भाग में सात गुरिया होती हैं. इन सात गुरियो में सिकुड़न या घिसावट होने से गुरियो के बीच की जगह संकरी हो जाने, गर्दन की कोशिकाओं की टूट-फुट से जमावट और अकड़न होने से 'सर्वाइकल स्पेडिलोसिस' नामक रोग उत्प्न्न होता हैं. आईये गर्दन में दर्द के लक्षण, कारण और बचाव के उपाय के बारे में जानते हे.
लक्षण
गर्दन की नसों पर दबाब पड़ने से गर्दन में, गर्दन के आसपास, गर्दन के पिछले भाग, गर्दन के आसपास दोनों कंधो के मध्य और मस्तिष्क में दर्द और तनाव होने लगता हैं. धीरे-धीरे भुजाओं में हाथो में और उंगलियों तक यह दर्द फैल जाता है. प्रातः कभी उंगलियाँ सुन्न हो जाती है. गर्दन में दर्द व् अकड़न के अतिरिक्त सिर में दर्द चक्कर आना मस्तिष्क में दर्द और बेचैनी, हाथो की पकड़ कमजोर होना, गर्दन घुमाने में अवरोध या तकलीफ होने आदि लक्षण देखे जाते हैं.

कारण
यह रोग गर्दन के गलत इस्तेमाल करने, फोम के गुदगुदे गधे तकिये पर सोने, सामने की और अधिक देर झुके रहने, ऊपर अधिक देर तक गर्दन उठाये रखने, लगातार लम्बे समय तक बैठे-बैठे या खड़े-खड़े काम करने अथवा लिखने-पढ़ने, गर्दन या कमर झुका कर काम करने, स्कूटर पर ज्यादा सवारी करने या गलत पोशचर में ड्राइविंग करने,व्यायाम आदि न करने से गर्दन की बनावट में विकृति आ जाने से उत्पन्न होता हैं. इसके अतिरिक्त्त अधिक चिंता,भागदौड़, मानसिक तनाव, आहार-बिहार में प्रकृति से दूर चले जाने आदि अन्य कारण रोग बढ़ाने में सहायक होते हैं.

ये भी पढ़े -10 तरह की ओरतें लडकियों से दूर रहे

चिकित्सा
1. दवाओं के सेवन से रोग को दूर करने से अधिक सहायता नही मिलती और न ही स्थायी रूप से लाभ होता है. क्योकि यह रोग गर्दन की बनावट में विकार या जाते से उत्पन्न होता है. दर्द दूर करने वाली औषधि ज्यादा लेने से नये रोगों की उत्पत्ति हो जाती है. जैसे पेट खराब, एसिडिटी,किडनी पर असर, याददास्त में कमी आदि.

2. इस रोग पर विजय प्राप्त करने के लिए सर्वप्रथम रोग उत्पन्न करने वाले कारणों से बचना जरूरी है. जैसे गर्दन झुकाकर लिखने-पढ़ने या बैठने-उठने की आदत छोड़ना, मोटे तकियों का इस्तेमाल न करना फोम के या ज्यादा गुदगुदे गधे पर सोने से बचना.
3. नियमित योगाभ्यास और व्यायाम करना.

3 Responses check and comments

  1. Thanks for sharing your post. There are many supplements available it makes us a daunting tasks. Herbal supplement in the form of pill is safe and effective. isit http://www.jointpainclinic.com/body-aches-pains-natural-relief-for-muscle-joint-pains.html

    ReplyDelete
  2. PAINAZONE is the most complete neck pain supplement available today. It helps reduce joint pain and stiffness with all natural and safe ingredients.

    ReplyDelete
  3. There are many treatments available for joint pain. Herbal supplement is best for joint pain. It has no ill health effects.

    ReplyDelete

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel