शाहिद अफरीदी कश्मीर संभालना पाकिस्तान के बस की नहीं


 Shahid afridi statement on kashmir hindi news सोशल मीडिया पर Pakistan Cricketer अफरीदी की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का विडियो वायरल हो रहा है इसमें अफरीदी कह रहे हैं, 'पाकिस्तान से पाकिस्तान के सूबे ही नहीं संभल रहे हैं। वह कश्मीर को क्या संभालेगा।' बता दें कि अफरीदी कश्मीर को लेकर पहले भी टिप्पणी कर चुके हैं

उधर, इमरान सरकार की किरकिरी कराने वाले इस बयान के बाद यह पूर्व क्रिकेटर पाकिस्तान में निशाने पर है। अफरीदी के इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए छत्तीसगढ़ में गृहमंत्री ने कहा, , 'बात तो ठीक कहा उन्होंने, वे पाकिस्तान नहीं संभाल पा रहे तो कश्मीर क्या संभालेंगे। कश्मीर भारत का हिस्सा था, है और रहेगा।'

 Shahid afridi statement on kashmir hindi news

   'कश्मीर को भारत को भी मत दो...'

 इस विडियो में वह कह रहे हैं, 'कश्मीर पाकिस्तान को भी नहीं चाहिए.. उससे तो यहां के लोग ही नहीं संभल रहे हैं। आप इंडिया को भी मत दो... पाकिस्तान को भी नहीं चाहिए। कश्मीर को अपने में रहने दो... अपना रहने दो उनको। इंसानियत बड़ी चीज है, जो लोग वहां पर मर रहे हैं.. चाहे वह किसी भी मजहब का हो... तकलीफ होती है इंसान के रूप में...

' आतंकवादियों के सपॉर्ट में किया था ट्वीट 

इससे पहले उन्होंने अपने बयान में भारत को निशाना बनाया था। उन्होंने इसी साल अप्रैल में ट्वीट किया था। जम्मू-कश्मीर में सेना के आतंकरोधी अभियान के तहत मारे गए 13 आतंकियों से शाहिद अफरीदी ने हमदर्दी जताते हुए लिखा था, 'कश्मीर की स्थिति बेचैन करनेवाली और चिंताजनक है।

 यहां आत्मनिर्णय और आजादी की आवाज को दबाने के लिए दमनकारी शासन द्वारा निर्दोषों को मार दिया जाता है। हैरान हूं कि संयुक्त राष्ट्र और अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठन कहां हैं? वे इस खूनी संघर्ष को रोकने के लिए कुछ क्यों नहीं कर रहे?'

अफरीदी के इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए छत्तीसगढ़ में गृहमंत्री ने कहा, , 'बात तो ठीक कहा उन्होंने, वे पाकिस्तान नहीं संभाल पा रहे तो कश्मीर क्या संभालेंगे। कश्मीर भारत का हिस्सा था, है और रहेगा।'

Post a Comment

इस कमेंट्स बॉक्स में ✓ Notify me क्लिक करले हम अगले 48 घंटे में आपकी Information इसी साइट पर देने का प्रयास करेगे...विज्ञापन कमैंट्स ना करे अन्यथा 1 घंटे के अंदर हटा दी जाएगी विज्ञापन चार्ज पे कर अपना ads दिखाए Top.HOWFN साइट पर