Dosto और मित्रो को सबसे पहले नये अंदाज में यह बधाई दे यहाँ क्लिक कर देखे
Post office best monthly income scheme पैसे से पैसा बनाने की जब भी बात आती है तो हम स्‍टॉक मार्केट, बैंक एफडी, एसआईपी या पीएफ जैसे फाइनेंशियल प्रोडक्‍ट की तरफ देखते हैं। इस काम में पोस्‍टऑफिस भी आपका बड़ा मददगार है indian post office schemes in hindi dakghar bachat yojana mahila bachat yojana information post office bachat scheme post office bachat khata form post office savings scheme details post office schemes in hindi 2017 golden yojna in post office 
आमतौर पर पोस्‍ट ऑफिस को लोग सिर्फ चिट्ठी-पत्री, किसान विकास पत्र या एनएएससी के लिए ही जानते हैं, लेकिन यह यहीं तक सीमित नहीं है।

अगर फाइनेंशियल प्‍लानिंग करके पोस्‍ट आफिस में निवेश किया जाए तो इससे करोड़पति बनना भी संभव है। पोस्‍ट ऑफिस के पास कई ऐसे फाइनेंशियल प्रोडक्‍ट हैं, जिनका सही तरीके से इस्‍तेमाल किया जाए तो वित्‍तीय रूप में लोग अपने को मजबूत कर सकते हैं। इसमें पीपीएफ, रेकरिंग डिपॉजिट, टर्म डिपॉजिट, राष्‍ट्रीय बचत पत्र और किसान विकास पत्र शामिल हैं।

  निवेश के लिए रखें ध्‍यान पोस्‍टऑफिस में निवेश करते वक्‍त ध्‍यान रखना चाहिए कि कुछ निवेश 5 साल में पूरे हो जाते हैं तो कुछ 15 साल तक किए जा सकते हैं। ऐसे में अगर लंबे समय के लिए निवेश करना है तो एक बार की मैच्‍योरिटी के बाद दोबारा निवेश करना चाहिए।

  टैक्‍स छूट भी पोस्‍टऑफिस में कुछ निवेश ऐसे हैं, जिनमें निवेश पर अच्‍छा ब्‍याज लेने के साथ ही इनकम टैक्‍स में छूट भी मिलती है। इसमें PPF, NSC शामिल हैं। आइए जानते हैं पोस्‍ट ऑफिस की आलग अलग स्‍कीम के बारे में और यहां कितने निवेश पर आप कब करोड़पति बन जाएंगे।

डाक घर का बचत खाता बैंक खाते की तरह ही होता है। यह खाता आप सिंगल और ज्वाइंट दोनों तरह से खुलवा सकते हैं। इस अकाउंट पर सालाना 4 फीसदी ब्याज दिया जाता है। यह करमुक्त है।

रिकरिंग डिपाजिट (आरडी)

रिकरिंग डिपाजिट डाक-घर की एक बेहद शानदार बचत योजना है। इस खाते की परिपक्वता पांच साल होती है। इसमें प्रति माह 10 रुपये का निवेश जरूरी है। इस पर 8.40 फीसदी ब्याज मिलता है। इसमें अधिकतम निवेश की कोई सीमा नहीं है।

सावधि जमा खाता

यह एक तरह से बैंक के एफडी की तरह होता है। इसे न्यूनतम 200 रुपये से खोल सकते हैं। इसमें निवेश की अधिकतम सीमा नहीं है। इसमें परिपक्वता अवधि 1, 2, 3 और 5 साल होती है। इस पर मिच्योरिटी के अनुसार 8.20 फीसदी से 8.50 फीसदी ब्याज मिल रहा है। इंकम टैक्स में धारा 80सी के तहत कर टैक्सह छूट भी मिलती है।

मासिक आय खाता

मासिक आय खाता योजना उन लोगों के लिए जो एक साथ राशि निवेश कर मासिक आधार पर ब्याज चाहते हैं। यह रिटायर्ड और सीनियर सिटीजन के लिए बहुत ही उपयोगी है। इस योजना में एकमुश्त जमा पर सालाना 8.50 फीसदी ब्याज मिलता है।सिंगल अकाउंट में कम से कम 1,500 रुपये और अधिकतम 4.5 लाख रुपये जमा कर सकते हैं। जबकि संयुक्त अकाउंट में न्यूनतम सीमा 1,500 रुपये और अधिकतम 9 लाख रुपये जमा कर सकते हैं।

पब्लिक प्रॉविडेंट फंड ( पीपीएफ)

पब्लिक प्रॉविडेंट फंड यानी की पीपीएफ वेतनभोगी और बिजनेसमैन दोनों के लिए है। अधिकतम साल भर में एक लाख रुपये तक के निवेश पर इंकम टैक्स में राहत मिलती है। इसे एक साथ या 12 किश्तों में जमा कर सकते हैं।इसकी मिच्योरिटी 15 साल है, लेकिन हर साल कम से कम 500 रुपये का निवेश जरूरी है। इस पर 8.80 फीसदी ब्याज मिलता है। यही नहीं पीपीएफ खाते पर 2 फीसदी सालाना ब्याज पर लोन की भी सुविधा है।

राष्ट्रीय बचत-पत्र (एनएससी)

राष्ट्रीय बचत-पत्र यानी की एनएससी सुरक्षित और बेहतर रिटर्न देने वाला विकल्प है। खास बात यह है कि इसमें निवेश की अधिकतम सीमा नहीं है। यह दो तरह का होता है। इसमें भी इंकम टैक्स में छूट मिलती है। ब्याज दर 8.60 फीसदी है और मिच्योैरिटी पांच साल है। इस योजना में ट्रस्ट और एचयूएफ निवेश नहीं कर सकते हैं।

वरिष्ठ नागरिक बचत खाता (एससीएसएस)

वरिष्ठ नागरिक बचत खाता यानी की एससीएसएस यह 60 वर्ष के ऊपर के वरिष्ठ नागरिकों के लिए निवेश और रिटर्न का एक नया विकल्प है। एक हजार रुपये से यह खाता खोला जा सकता है। इसमें अधिकतम निवेश की सीमा 15 लाख रुपये है। इस अकाउंट की परिपक्वता पांच साल है, इससे पहले इसमें से निकासी नहीं हो सकती है। इस पर सालाना 9.30 फीसदी ब्याज मिलता है।

सुकन्या समृद्धि योजना

इस अकाउंट में एक फाइनेंशियल ईयर में कम से कम 1 हजार और अधिक से अधिक डेढ़ लाख रुपया या इसके बीच की कितनी भी रकम जमा कर सकते हैं। यह पैसा अकाउंट खुलने के 14 साल तक ही जमा करवाना पड़ेगा। मगर, खाता बेटी के 21 साल की होने पर ही मैच्योर होगा। बेटी के 18 साल के होने पर आधा पैसा निकलवा सकते हैं। 21 साल के बाद खाता बंद हो जाएगा और पैसा गार्जियन को मिल जाएगा। अगर बेटी की 18 से 21 साल के बीच मैरिज हो जाती है तो अकांउट उसी वक्त बंद हो जाएगा। अगर पेमेंट लेट हुई तो सिर्फ 50 रुपए की पैनल्टी लगेगी। गार्जियन अपनी दो बेटियों के लिए दो अकाउंट खोल सकते हैं। जुड़वां होने पर उसका प्रूफ देकर ही तीसरा खाता खोल सकेंगे। खाते को आप कहीं भी ट्रांसफर करा सकेंगे।

कृपया निवेश करने से पहले https://www.indiapost.gov.in पर सभी जानकारी प्राप्त कर लें.

कोई भी सवाल पूछे ?.या Reply दे

इस कमेंट्स बॉक्स में ✓ Notify me क्लिक करले हम अगले 48 घंटे में आपकी Information इसी साइट पर देने का प्रयास करेगे...विज्ञापन कमैंट्स ना करे अन्यथा 1 घंटे के अंदर हटा दी जाएगी विज्ञापन चार्ज पे कर अपना ads दिखाए Top.HOWFN साइट पर