Dosto और मित्रो को सबसे पहले नये अंदाज में यह बधाई दे यहाँ क्लिक कर देखे
यह दोनों ही तकनीक ब्लूटूथ से जुडी हुयी हे. जिन्हें हैकर हैकिंग के लिए इस्तेमाल कर सकता हे. आज की इस पोस्ट में, में आपको इन दोनों तकनीक के बारे में बताऊंगा. 

1. ब्लू जैकिंग
ब्लू जैकिंग आर्थात ब्लूटूथ जिसके द्वारा हम एक डीवाइस से दुसरे डिवाइस में सन्देश या सूचनाओं को भेजने का कार्य करते हे. ब्लू जेकर उन सुविधाओं का प्रयोग करता हे जो मूल रूप से इलेक्ट्रोनिक कार्ड्स एंव सम्पर्क पते का आदान-प्रदान करता हे. यह तभी एक समस्या हो सकता हे यदि यह गन्दी साम्रगी या धमकी सन्देश या विज्ञापन भेजने के लिए प्रयुक्त किया जाता हे. अगर हमें इन चीजों से बचना हे तो अपने उपकरण का “अनडिस्कबरेबल” पर सेट करें और ब्लूटूथ बंद कर दे.

2. ब्लूस्नाफ्रिंग
ब्लूटूथ उपकरण से डाटा का चोरी होना ब्लूस्नाफ्रिंग कहलाता हे. ब्लूजैकिंग की तरह ब्लूस्नाफ्रिंग उन डिवाइसों का पता लगाता हे जंहा ब्लूटूथ लगा हो और on हो. लैपटॉप पर ब्लूटूथ का उपयोग कर software चलाने वाला नजदीकी ब्लूटूथ डिवाइसों को खोज लेता हे और हमारी जानकारी के बिना कनेक्ट कर आपके डाटा, फोन सीरियल नंबर को डाउनलोड कर आपके फोन को क्लोन की तरह इस्तेमाल कर सकता हे. अत: अगर आप अपने डिवाइस का ब्लूटूथ बंद रखें तो यह सामने वाले द्वारा नहीं प्रयुक्त किया जा सकता.

कोई भी सवाल पूछे ?.या Reply दे

इस कमेंट्स बॉक्स में ✓ Notify me क्लिक करले हम अगले 48 घंटे में आपकी Information इसी साइट पर देने का प्रयास करेगे...विज्ञापन कमैंट्स ना करे अन्यथा 1 घंटे के अंदर हटा दी जाएगी विज्ञापन चार्ज पे कर अपना ads दिखाए Top.HOWFN साइट पर