रूपए का गिरने का मतलब will indian rupee go down meaning hindi


जिस चीज का मूल्य होता है वह धन है। सिक्के, नोट और बैंकिग दस्तावेज एक मूल्य को दर्शाते हैं। यह मूल्य हजारों साल पहले वस्तु के विनिमय से तय होता था। मसलन एक बोरा धान के बदले कपड़ा, बर्तन या कोई दूसरी चीज। विनिमय को थोड़ा आसान करने के लिए मुद्रा का जन्म हुआ। आपका सवाल इन मुद्राओं के विनिमय की दर को लेकर है। इसका गणित जटिल है, पर उसके कारकों को समझना दिक्कत तलब नहीं है। जैसे वस्तुओं की कीमत उसकी माँग से तय होती है उसी तरह मुद्रा की कीमत भी उसकी माँग से तय होती है।

जब हम अंतरराष्ट्रीय बाजार में व्यापार करने निकलते हैं तब किसी न किसी मुद्रा के बरक्स हमारी मुद्रा का मूल्य तय होता है तभी व्यापार हो पाता है। प्रायः हम डॉलर के बरक्स अपनी मुद्रा की कीमत को देखते हैं, क्योंकि डॉलर दुनिया की कुछ उन हार्ड करेंसियों में सबसे आगे है जिनके माध्यम से दुनिया में कारोबार होता है। एकाध देशों के साथ हम रुपए में लेन-देन भी करते हैं। दरअसल जिसे हम रुपए की कीमत गिरना कहते हैं वह डॉलर की कीमत बढ़ना है। पिछले कुछ वर्षों से डॉलर की माँग बढ़ने का कारण उसकी कीमत बढ़ने लगी है, क्योंकि उसकी माँग बढ़ रही है। मुद्रा की कीमत तय होने का एकमात्र कारण यही नहीं है। सबसे बड़ा कारण है मुद्रा प्रसार के कारण वस्तुओं की कीमतें बढ़ना। जैसे ही किसी अर्थव्यवस्था का विस्तार होता है लोगों की आय बढ़ने लगती है। इससे चीजों की माँग बढ़ती है। यदि उनकी सप्लाई पर्याप्त न हो तो चीजों के दाम बढ़ते हैं। यह मुद्रास्फीति है। इससे मुद्रा की कीमत भी कम होती है। मसलन पहले 100 रुपए में जितना अनाज मिलता था, वह 110 रुपए में मिलने लगा।

bhartiya mudra in hindi - 

अर्थव्यवस्था की अंदरूनी ताकत भी मुद्रा की ताकत को कम या ज्यादा करती है, पर वह भी एकमात्र कारण नहीं है। और मुद्रा की कीमत कम होना हमेशा नुकसानदेह भी नहीं होता। मसलन चीन चूंकि काफी निर्यात करने वाला देश है उसे डॉलर की कीमत बढ़ने से फायदा होना चाहिए, क्योंकि उसका माल अमेरिकी बाजार में और सस्ता हो जाएगा। हाल में चीन ने अपनी मुद्रा की कीमत कम की है। source -gyaankosh.blogspot.in

0 Response to "रूपए का गिरने का मतलब will indian rupee go down meaning hindi"

Post a Comment

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel