बिजनेस लोन 1 करोड़, बैंक स्‍कीम Business loan by government

यहाँ क्लिक कर अपने दोस्तों को बधाई मोबाइल पर भेजे अभी
लोन का मकसद इस लोन का मकसद किसी बिजनेस में इन्‍वेस्‍टमेंट संबंधी जरूरत पूरी करना है। बैंक ऑफ इंडिया ने 'स्‍टार लघु उद्यमी समेकित लोन स्‍कीम' लॉन्‍च की है यह आकर्षक स्‍कीम छोटे बिजनेसमैन को ध्‍यान में रखकर तैयार की गई है।

मुद्रा योजना का मेगा कैंपेन, 1.22 लाख करोड़ के लोन देंगे बैंकइस इनोवेटिव स्‍कीम के तहत बैंक लोगों को माइक्रो और स्‍मॉल एंटरप्राइजेज के लिए उनकी जरूरत के मुताबिक एक करोड़ रुपए तक का लोन देता है। खास बात यह है कि यह लोन रूरल, सेमी-अर्बन, अर्बन और बड़े शहरों (मेट्रो) सभी जगहों पर उपलब्‍ध है, स्‍कीम का उद्देश्‍य आंत्रप्रेन्‍योरशिप की वर्किंग कैपिटल संबंधी जरूरत को भी पूरा करना है। यह प्रोडक्‍ट उन लोगों को ऑफर किया जा रहा है, जिन्‍हें माइक्रो और स्‍कॉल एंटरप्राइजेज के लिए वर्किंग कैपिटल और टर्म/डिमांड लोन की जरूरत होती है 

लोन की अमाउंट

बैंक द्वारा लोन की अमाउंट जगह के अनुसार तय की गई है। जो बिजनेसमैन या आंत्रप्रेन्‍योर ग्रामीण इलाकों में काम कर रहे हैं, उनके लिए लोन लेने की अधिकतम सीमा पांच लाख रुपए तय की गई है। इसी तरह, सेमी-अर्बन एरिया में बिजनेस करने वालों के लिए अधिकतम सीमा 10 लाख रुपए है। अर्बन एरिया के लिए यह सीमा 50 लाख रुपए और बड़े शहरों यानी मेट्रो के एक करोड़ रुपए तय की गई है ( यहाँ क्लिक कर ये इंटरनेट वेबसाइट से बन चुके अमीर)

प्रोसेसिंग फीस
एक लाख रुपए तक के लोन पर 500 रुपए, एक लाख से पांच लाख तक पर एक हजार रुपए, पांच लाख से 10 लाख रुपए पर 1500 रुपए, 10 लाख से 50 लाख रुपए तक के लोन पर पांच हजार रुपए और 50 लाख रुपए से लेकर एक करोड़ तक के लोन पर 10 हजार रुपए की प्रोसेसिंग फीस लगती है
इंटरेस्‍ट रेट क्‍या है

50 हजार रुपए तक के लोन पर इंटरेस्‍ट रेट 10.20 फीसदी, 50 हजार से ऊपर और पांच लाख रुपए तक के लोन पर 11.20 फीसदी, पांच लाख से ऊपर और 10 लाख रुपए तक के लोन पर 12.20 फीसदी और 10 लाख से ऊपर और एक करोड़ तक के लोन पर 12.95 फीसदी तय की गई है। यहां ध्‍यान देने लायक बात यह है कि स्‍कीम के तहत मिलने वाले टर्म लोन पर ED/26.07.2010 II-ROI द्वारा स्‍वीकृत टर्म प्रीमियम नहीं देना होगा और यह बेस रेट (फ्लोटिंग) से लिंक है। इसके अलावा, CGTMSE गारंटी कवर के तहत आरओआई में 0.50 फीसदी की छूट पहले ही दे दी गई है। स्‍कीम के तहत प्रियदर्शिनी, एसएमई रेटिंग आदि को मिलने वाली छूट समेत कोई भी अन्‍य छूट नहीं दी जाएगी। किसी भी अकाउंट विशेष छूट पर भी विचार नहीं किया जाएगा।

लोन का प्रकार: डिमांड/टर्म लोन के रूप में कंपोजिट लोन

मार्जिन क्‍या है: बैंक द्वारा मार्जिन 15 फीसदी तय की गई है।

रीपेमेंट:
लोन की अदायगी अधिकतम पांच वर्षों में की जाएगी। लोन से जुड़े मामले की मेरिट के आधार पर तीन से छह महीनों के मॉरेटोरियम का भी प्रावधान है।

सिक्‍युरिटी:
बैंक फाइनेंस से क्रिएट की गई असेट के साथ ही एमएसई यूनिट की वर्तमान भारमुक्‍त एसेट का मॉर्गेज। उस लैंड/बिल्डिंग का मॉर्गेज जो बिजनेस एक्टिविटी का हिस्‍सा है, उदाहरण के लिए बिजनेस अहाता। सीजीटीएमएसई स्‍कीम के तहत गारंटी कवर। किसी कॉलैटरेल सिक्‍युरिटी/थर्ड पार्टी गारंटी की जरूरत नहीं है।

लोन के लिए किन डाक्‍यूमेंट की है जरूरत
डिमांड प्रोमिसरी नोट
डीड ऑफ हाइपोथीकेशन CHA 1/CHA 2, जो मामले पर निर्भर करता हे
इंस्‍टालेशन लेटर
केवाईसी नॉर्म्‍स पूरे करने के लिए डाक्‍यूमेंट
गाडइलाइंस के मुताबिक डिमांड लोन के लिए अन्‍य संबंधित डाक्‍यूमेंट
प्राइमरी सिक्‍युरिटी के रूप में इक्विटेबल मॉर्गेज

प्रोसेसिंग:
साधारण आवेदन और प्रोपोजल फार्म को भरना
पांच लाख रुपए तक के लोन की स्‍वीकृति के लिए पांच वर्किंग डेज और पांच लाख से अधिक के लोन पर सभी जरूरी डाक्‍यूमेंट्स जमा करने पर सात दिन का समय लगता है।

क्रियान्‍वयन एजेंसी: इस स्‍कीम का क्रियान्‍वयन सीधे बैंक द्वारा किया जाएगा। कोई भी बाहरी सरकारी या निजी एजेंसी इसके क्रियान्‍वयन से जुड़ी हुई नहीं है।

वर्गीकरण: इसे MSME कैटेगरी में रखा गया है और इसका सेक्‍टर कोड 32 है। स्‍कीम का कोड 209 और स्‍पेशल कैटेगरी कोड 150 से 173 के बीच होगा, जो प्‍लांट और मशीनरी/उपकरण में निवेश की मूल लागत पर निर्भर करेगा। बीएसआर कोड एक्टिविटी यानी काम पर निर्भर करेगा।

No comments

इस कमेंट्स बॉक्स में ✓ Notify me क्लिक करले हम अगले 48 घंटे में आपकी Information इसी साइट पर देने का प्रयास करेगे...विज्ञापन कमैंट्स ना करे अन्यथा 1 घंटे के अंदर हटा दी जाएगी विज्ञापन चार्ज पे कर अपना ads दिखाए Top.HOWFN साइट पर

Powered by Blogger.