मुंबई ब्रिज किसने बनवाया था जिम्मेदार लोग कब बना था Mumbai bridge hadsa foot over bridge hindi - Top.HowFN

मुंबई ब्रिज किसने बनवाया था जिम्मेदार लोग कब बना था Mumbai bridge hadsa foot over bridge hindi

Mumbai bridge hadsa foot over bridge hindi

 भ्रष्ट लोग लाशों पर शीश महल बनाना चाहते हैं 1 साल पहले मरम्मत हुआ मुंबई पुल आज गिर जाता है भ्रष्ट लोग लाखों करोड़ों रुपए मरम्मत के नाम पर खा जाते हैं क्या आम नागरिक की मोत इतनी सस्ती है 

बीएमसी ने बनाया था इस पुल की मेंटेनेंस का जिम्मा भी बीएमसी के पास था इसलिए बीएमसी के मेयर विश्वनाथ पांडुरंग सीधे तौर पर इस हादसे के लिए जिम्मेदार हैं तस्वीर आप देख सकते हैं



इसके अलावा बीएमसी के जो कमिश्नर साहब है अजय मेहता वह भी इस हादसे के लिए जिम्मेदार हैं इस इलाके के सांसद हैं अरविंद सावंत अरविंद सावंत शिवसेना के सांसद हैं इस हादसे के लिए जिम्मेदार है

 इसके अलावा विधायक जो बीजेपी के हैं बीजेपी के विधायक राजपुरोहित को भी हादसे की जिम्मेदारी लेनी चाहिए क्योंकी वोट मांगने तो यहीं आए थे

मुंबई ब्रिज हादसा नहीं सीधे लोगो को मरना है 302 का मुकदमा बने 


आज जो लोग हादसे का शिकार हुए उनके ऊपर भी जिम्मेदारी होगी परिवार की जिम्मेदारी होगी बच्चों की जिम्मेदारी होगी लेकिन जिन लोगो की लापरवाही से यह पुल गिरा है वह इस समय भी कहीं आराम से बैठे होंगे

अपनी गलतियों को ढकने की योजनाएं बना रहे होंगे यह तस्वीर बदलनी होगी और यह तस्वीर ऐसे नहीं बदली जा सकती सबसे पहले इस तस्वीर को इस देश की जनता ही बदल सकती है

सरकार चलाने वाले लोग हमें सुन रहे हैं यह पहली जिम्मेदारी है कि वह इस तस्वीर को बदले और जब भी ऐसा कोई हदसा हो जिम्मेदार लोगों पर हत्या का मामला दर्ज होना चाहिए

याद कीजिये दिसंबर 2017 में सड़क परिवहन मंत्रालय ने भारत के राज्य मार्गों पर 6,500 कमजोर पुलों की पहचान की थी और हमारे देश में राजमार्गों पर 20 से ज्यादा पुल तो ऐसे हैं जो 100 साल से भी ज्यादा पुराने हैं यानी अंग्रेजों के जमाने के आज भी लाखो लोग राजमार्गों पर सफर करते है

Mumbai bridge hadsa foot over bridge hindi 


महाराष्ट्र मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की ज़िमेदारी बनती है जो पिछले 4 साल से राज्य के मुख्यमंत्री हैं और थोड़ी देर पहले कह रहे थे कि उन्होंने एक बड़ा भारी काम कर दिया है और वह अभूतपूर्व काम यह है कि उन्होंने एक उच्चस्तरीय कमेटी का गठन कर दिया है

और इसके बाद उन्होंने यह भी कह दिया कि ₹500000 कीमत है इन मौतों की इसलिए जो लोग मर गए उनके परिवार वालों को पांच लाख दे देंगे पर मामले को समाप्त करते है

मुंबई ब्रिज टूटना हादसा नहीं मर्डर है 


 जब पता था पुल जर्जर है तो उससे बंद हो जाना चाहिए था अगर पता है कि पुल की मरम्मत होनी है वहां लोगो का आवागमन रोक दिया जाता लोगों के आने जाने पर पाबंदी लग जाती

घटना दर्शी  - पहले हमारे मन में ध्यान में ख्याल आया कि कम से कम इस घटना में 30 से 40 लोग जरूर घायल हुए होंगे और हम भी कई लोगों को तो बुरी अवस्था में देखा और मन में ख्याल आया कि यह बहुत बुरा हो गया

 एक टैक्सी चालक था वह बाल-बाल बचा दो और गाड़ियां मलबे के बीच में आई और बाकी मलबे के नीचे बहुत लोग दबे हुए थे जो लोग मलबे के ऊपर थे और कुछ वेहोश हो गए कुछ का हिस्सा मलबे के नीचे हाथ और पैर दबा हुआ था कुछ मलबे के बिल्कुल नीचे चले गए थे 

No comments

मोबाइल नो. ना डाले नेट पर सभी को देखेगा सिर्फ अपने विचार दे कमेंट्स बॉक्स में ✓ Notify me क्लिक करले अगले 48 घंटे में जवाव देने का प्रयास करेगे, विज्ञापन कमैंट्स ना करे 1 घंटे के अंदर हटा दी जाएगी विज्ञापन चार्ज पे कर Ads दिखाए

Powered by Blogger.