हाय गूगल कैसे हो नमस्ते गूगल असिस्टेंट हिंदी Hello Google kaise ho kya kar rahe ho aap - Top.HowFN

हाय गूगल कैसे हो नमस्ते गूगल असिस्टेंट हिंदी Hello Google kaise ho kya kar rahe ho aap


Hello Google kaise ho kya kar rahe ho aap हाय गूगल असिस्टेंट क्या है गूगल असिस्टेंट हिंदी कैसे काम करता है गूगल अलो नमस्ते गूगल हेलो गूगल असिस्टेंट ओके गूगल ओपन गूगल असिस्टेंट गूगल में फोटो कैसे डालते हैं

दुनिआ का सबसे बड़ा सर्च search engine जिसकी शुरुआत तो अमेरिका में हुई थी लेकिन आज इस का साम्राज्य हर घर तक पहुंच चुका है आजकल हर कोई यही कहता है हेलो गूगल कैसे हो आइए बताते हैं पूरी कहानी


 Hi Google kaise ho kya kar rahe ho


Google 1996 में बनी कंपनी जिसने कभी यह नहीं सोचा था कि वह दुनिया की सबसे बड़ी खोज इंजन बन जाएगी जिया दोस्तों हम बात कर रहे हैं गूगल वेबसाइट के जिस के शुरुआती दिन में गूगल ने काफी दिक्कतों का सामना किया था इनके जो मालिक है वह उस समय कॉलेज में थे और कॉलेज प्रशासन की तरफ से उन्हें बाहर कर दिया गया था

यानी कॉलेज से निकाल दिया गया था तब गूगल के फाउंडर लैरी पेज ने यह तय किया था कि मैं इस वेबसाइट को यानी गूगल को इतना बड़ा कर दूंगा कि सारी बड़ी-बड़ी कॉलेज की वेबसाइट है उसके छात्र उसके प्रोफेसर मेरी कंपनी को जाने पहचाने और उनकी बात आज सच साबित हो गई है

गूगल पूरी दुनिया के कॉलेज और स्कूल में पढ़ाया जाने लग गया है आइए जानते हैं कुछ ऐसी ही रोचक और भी बातें जो गूगल से रिलेटेड हैं

शुरुआती दिनों में पैसे की तंगी के वजह से गूगल की बिकने की हालत हो गई थी और यह बिकिनी वाली थी और इस का ऑफर लेकर इसके फाउंडर सबसे पहले याहू के पास गए और उन्होंने यह ऑफर दिया कि आप हमारे खोज इंजन गूगल को 1000000 रुपए में खरीद सकते हैं अब आगे सुनिए yahoo या उन्होंने क्या जवाब दिया

दोस्तों उस समय की सबसे बड़ी कंपनी याहू थी और याहू को ऐसा लगता था कि वह हजारों सालों तक राज्य करेगी इंटरनेट दुनिया पर

 होती भी क्यों ना क्योंकि उस समय गूगल जैसी कंपनी नहीं थी और सबसे बड़ी कंपनी उस समय या वही बन गई थी याहू और गूगल दोनों बिल्कुल अलग तरीके से काम करते हैं शुरू से ही याहू अपने सर्च रिजल्ट में ज्यादातर ऐड दिखाता था पर गूगल शुरू से ही नीट एंड क्लीन है साफ सुथरा है जो लोगों को ज्यादा पसंद आता है

दोस्तों जब याहू ने उनके सर्च इंजन को 1000000 रुपए मैं लेने से मना कर दिया तो उनकी फाउंडर नहीं एक किराए का गैरेज लिया और वहीं से अपनी कंपनी को चलाने लग गए

 देखते ही देखते गूगल कंपनी 2004 तक अच्छी खासी प्रसिद्ध हो गई थी अब गूगल ने सोचा क्यों नहीं अमेरिका के बाहर भी अपनी सर्विसेस पहुंचाई जाए तो गूगल ने फिर दूसरे देशों में भी अपने प्लेटफार्म को देना स्टार्ट किया

आज गूगल की सेवाएं products 160 से ज्यादा हो चुकी है और 200 के आसपास देश गूगल सर्च इंजन को उपयोग में लेते हैं

दोस्तों आपको पता होगा कि गूगल ने बहुत सारे ऐसे बदलाव कर दिए हैं जो इंटरनेट में एक और नई क्रांति पैदा करते हैं जैसे कि आपको पता होगा गूगल ने एंड्राइड निकाल दिया है जिससे काफी मोबाइल कंपनियों को नुकसान हुआ था क्योंकि एंड्रॉयड उस समय कोई लेना पसंद नहीं कर रहा था और एंड्रॉयड वर्जन गूगल का था नोकिआ जैसी कंपनी उस समय दिग्गज हुआ करती थी जिसने माइक्रोसॉफ्ट के साथ मिलकर मार्केट में काम किया उस समय गूगल ने अपना नया वर्जन एंड्राइड दिया था

नमस्ते गूगल असिस्टेंट हिंदी


दोस्तों हाल ही में  गूगल असिस्टेंट हिंदी काफी ज्यादा प्रसिद्ध हो रहा है इसमें आप सवाल जवाब पूछ सकते हैं जिसके अंदर गूगल अशिष्ट वर्क करता है गूगल अशिष्ट है ही गूगल का ही प्रोडक्ट है इसमें गूगल अलग-अलग भाषाओं में बात करता है आप उससे किसी भी तरह की वेदर इंफॉर्मेशन मौसम के बारे में जानकारी ले सकते हैं और इंटरनेट पर जो भी जानकारी पढ़ने योग्य है वह सब आपको सुना सकता है यह उन लोगों के लिए काफी फायदेमंद है जो घर पर अकेले रहते हैं तो गूगल से बात कर सकते हैं इसका प्राइस मार्केट में 3000 से लेकर 100000 तक केवल अशिष्ट उपलब्ध है
Powered by Blogger.