Bitcoin india news rbi hindi alert वर्चुअल करंसी को लेकर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने एक बार फिर आगाह किया है। रिजर्व बैंक ने कहा है कि इस तरह की करंसी में ट्रेड करने के लिए किसी भी कंपनी को न तो लाइसेंस दिया गया है और न ही अधिकृत किया गया है। इसके पहले भी आरबीआई ने फरवरी 2017 और दिसंबर 2013 में इसे लेकर आगाह किया था।

आरबीआई ने कहा है कि वर्चुअल करंसी में ट्रेडिंग को मान्यता नहीं दी गई है। फिर भी यहां इनमें ट्रेडिंग हो रही है, ऐसे में यह रिस्की है। बता दें कि दुनियाभर के तमाम देशों में बिटक्वॉइन और दूसरी वर्चुअल कंरसी में ट्रेडिंग बढ़ रहा है, लेकिन भारत में इसे मान्यता नहीं है। बर्चुअल करंसी में ट्रेडिंग को रेग्युलराइज्ड किए जाने की बात हो रही है।

अचानक वर्चुअल करंसी बिटक्वॉइन का रेट बढ़ने पर जारी की चेतावनी
रिजर्व बैंक ने आज यह चेतावनी बिटक्वॉइन के भाव 11,799.99 डालर पर आने के बाद जारी की। इस करेंसी का रेट इसी साल करीब 11 गुना बढ़ चुका है। बिटक्वॉइन का यह भाव लग्‍जमबर्ग स्थित बिस्‍टेम्‍प एक्‍सचेंज में दर्ज किया गया।

इसकी लीगल वैल्‍यू नहीं
जानकारों के अनुसार इस वर्चुअल करंसी से न तो किसी ट्रांजैक्‍शन को सेटल किया जा सकता है और न ही इसकी कोई लीगल वैल्‍यू है। इसका रिकॉर्ड सिर्फ ब्‍लॉकचेन टेक्‍नॉलाजी से रखा जाता है। यह अभी तक नहीं पता चला है कि यह करेंसी को किसने बनाई है। इसके कोड को अभी तक तोड़ा नहीं जा सका है।

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..