Share market kya hai basics download wikipedia  Share यानी हिस्सा बड़ी बड़ी public limited companies जब कोई नया business start करती हैं, तब आम जनता के द्वारा अधिक धन (Capital) जुटाने के लिए share offer करती है, और share holders इन shares को खरीद कर यां फिर intra-day trade कर के मुनाफा कमाने के लिए सौदा करते हैं|

share bazaar मे आए दिन नयी नयी companies आती हैं| कई कंपनियां कम समय में बहुत अधिक मुनाफा कमाती है तो कई companies दिवालिया भी हो जाती हैं| stock market (share bazaar) का नियमन SEBI के द्वारा किया जाता है| अगर कोई भी company सरकार के विरुद्ध यां share holders के विरुद्ध किसी भी प्रकार की धोखाधड़ी करे तो SEBI उस कंपनी पर आर्थिक दंड लगाने और कंपनी पर उचित कारवाही करने का अधिकार रखती है|

कोई भी नयी company मन चाहे उतना capital shares के द्वारा नहीं जुटा सकती हैं| हर एक company का economical value calculate किया जाता है यानी के company के पास कितना liquid fund है, कितनी properties है, etc. factors के आधार पर कितना funding मँगवाने के लिए company eligible है यह decide होता है| Company द्वारा एक बार shares करने के बाद share बाज़ार में आ जाते है और उन shares को लोगों द्वारा आपस में share market के द्वारा ख़रीदा और बेचा जाता है|

Demat Account अकॉउंट क्या होता है?

Share खरीदने और बेचने के लिए Demat अकाउंट होना आवश्यक है|शेयर्स electronic form में deposit किये जाते है और Demat account आपके bank account की तरह ही शेयर्स को deposit करता है| Demate account यानी share depository account आपके खुलवाने के लिए PAN card, resident proof, photo proof, photos॰ bank account, etc. document की जरूरत होती है॰ trading account एक या दो दिन मे भी आज कल खुल जाता है॰ पर de-mate account को खुलने मैं 7 से 10 दिन तक लग सकते हैं|

शेयर कैसे ख़रीदे और बेचें – Share Trading

stock trading के लिए stock broker बाज़ार मे मौजूद होते हैं, market जब शुरू होता है, दिन के दरम्यान तब share holder अपने broker को call कर के कौन से shares खरीदने हैं और कौन से बेचने हैं, उसकी instruction देते हैं॰ और broker अपने client की instruction के अनुसार सौदा computer पर perform कर देते हैं॰ अपनी इस सेवा के बदले मे stock broker normally intraday trading के लिए 0.10 पैसा per 100 rupee charge करते हैं॰ और delivery base trade के लिए 1 rupee पर 100 यानी 1 % तक charge करते हैं॰

शेयर बाजार में इन्वेस्ट करके पैसे कैसे कमाए?

stock market एक ऐसा सुन्दर विकल्प है जहा पर investor समझदारी से कम समय मे ज्यादा मुनाफा कमा सकता है और अगर बिना सोचे समझे सौदे करे तो लाख के बारह हज़ार होते भी देर नहीं लगती. Share Market में Risk और Return दोनों अधिक होते है और पूरा Share Bazaar ही Risk-Return के नियमों के हिसाब से चलता है.

Share Market में invest करने से पहले क्या research करें?

share खरीदने से पहले  share बेचने वाली नयी company के बारे मे सम्पूर्ण जानकारी पता करना जरूरी है| जैसे के company का profit /business model क्या है, company के chairman, directors, कौन कौन हैं, company की सहयोगी companies कौन कौन हैं, company के owners directors का पिछला business experience और track record क्या है, company जिस चीज़ का business करने वाली है उसका future क्या है, company मे बनने वाली products या services पर government की नीतियाँ क्या है|

Share bazaar (Stock Market) को एक जल्दी पैसा कमाने का आसान तरीका समझ कर जो लोग पैसा लगाते हैं॰ और बिना पैसे लगाए सट्टा खेल कर रातो रात लखपति बनने का सपना देखने वाले हमेशा नुकसान उठाते हैं॰ share trading एक long-term investment समझने वाले और invest करने वाले हमेशा share investments से तगड़ा मुनाफा कमाते हैं॰

Intraday Trading VS Delivery base investment इसको भी जाने।  

Intraday Trading – वह कहावत है ना कि “जल्दी का काम शेतान का होता है” और जल्दी मे आम नहीं पकते, यहाँ share market पर भी ऐसा ही लागू होता है॰ intraday मे morning 9.15 am से 3.30 pm के बीच stock खरीद कर बेचने यां बेच कर खरीदने होते हैं॰ इसको same day trading भी कहेते हैं॰ इस सौदे मे stock broker की brokerage कम होती है

Delivery based share investment – बूंद बूंद से सागर बनता है, जी हाँ ‘delivery base’ investment के उत्तम विकल्प है shares मे investment करने के लिए॰ delivery base shares खरीदने के बाद same day मे बेचने नहीं पड़ते और जब तक चाहे तब तक shares को अपने demat खाते मे जमा रख सकते हैं॰ intraday trading के मुक़ाबले delivery base trading में brokerage थोड़ी ज़्यादा होती है॰

Intra-day trading के लिए user को अपने trading खाते मे 20% मार्जिन देना होता है॰ यानी के 100 रुपये की trading करनी हो तो account मे 20 रूपये जमा होना आवश्यक है॰ delivery base stock buying property खरीदने की तरह होता है॰ इसलिए उसमे पूरी रकम 100% रकम भुगतान करनी पड़ती है॰ लम्बे समय के निवेश पर share धारक को dividend, और बोनस शेर जेसे benefits मिलते हैं॰

Share Market Basic Tips – शेयर बाजार के बेसिक टिप्स।

stock market में intraday, delivery trading, commodity, future and option, debaucher, bonds, currency, metal, gold, silver, etc. बहुत सारे products available हैं, जिनके बारे मे विस्तार से लिखने पर एक book भी कम होगी॰ stock market मे कूदने वाले हर एक व्यक्ति को एक ही सलाह होगी के stock market कोई जादू की छड़ी नहीं है, जहां short term मे अमीर बना जा सके॰ थोड़ा थोड़ा कर के invest करने पर 3 से ले कर 7 साल तक का नज़रिया रखा जाए तो पैसे  कमाए जा सकते हैं|  debt free अच्छे management वाली companies के share मे लंबा निवेश किया जाये तो share बाज़ार से उत्तम कोई और option नहीं है और जल्दबाजी में पैसे कमाने के चक्कर में उलझ जाए तो share market व्यक्ति को बर्बाद भी कर सकता है|

Consumer को सस्ते दर पर Online trading सेवा देने के लिए zerodha.com, sharekhan.com, rksv.com, Indian trading league, anagram, angel broking, motlal osval, icici, hdfc, जैसे बड़े player market में मौजूद हैं| पर हर किसी के लिए  online trading के features समझना थोड़ा complicated हो सकता है| पर इन्टरनेट का सामान्य ज्ञान रखने वाला व्यक्ति आसानी से online trading application समझ कर खुद trading कर सकता है॰ और money transaction के लिए bank से payments भी send और receive आसानी से कर सकता है॰

शेयर बाजार के सबसे महत्वपूर्ण नियम – Most Important Rule of Share Market Investment

शेयर बाज़ार का सबसे बड़ा नियम यही है कि Investment, Long Term के लिए किया जाना चाहिए और long term में ही अच्छा return जरूर मिलता है, हर सफल निवेशक का सबसे पहला नियम यही होता है. आमतौर पर शेयर बाज़ार में निवेश करने से पहले आम निवेशक डरता है। शेयर में निवेश करने पहले हर निवेशक के सामने सवाल होते हैं कि कहां निवेश करें, कैसे निवेश करें या निवेश में कोई धोखा तो नहीं हो जाएगा। आज हम आपको इन सवालों के जवाब दे रहे हैं, जिसके बाद आप आसानी से और बेफिक्र होकर शेयर बाजार में निवेश कर सकते हैं। आगे देखें शेयर मार्केट में निवेश करने से पहले क्या क्या सावधानियां बरते।

#1. कम पूंजी से करें शुरुआत शुरुआत में नाम मात्र का निवेश करें और अनुभव प्राप्त करें। ऐसा करने से आप बड़ी रिस्क से दूर रह सकते हैं। एकदम से बड़ी रकम दांव पर न लागायें। वैसे भी बाजार में एक साथ बड़ा निवेश करने से बचना चाहिये और अपनी पूंजी का एक एक हिस्सा नियमित रूप से निवेश करना चाहिए।

#2. स्वयं को शिक्षित करें शेयर बाजार में निवेश करने से पहले अपने आप को तैयार करें। इसके लिए आप कंपनी की बैलेंस शीट और कंपनियों के नतीजों को पढ़ना और समझना सीखें। साथ ही जो लोग इस फील्ड से जुड़े हुए नहीं है तो उन्हें थोड़ा ज्यादा जानने की जरुरत है। इसके लिए बिजनेस अखबार पढ़ें या बिजनेस चैनल देखें। उसके बाद आत्मविश्वास होने पर कंपनियों पर नजर रखना शुरू करें।

#3. कंपनियों पर रखें नजर जब कभी भी निवेश करें उससे पहले कंपनियों पर नजर रखें। अगर कमजोर विकास दर हो या महंगाई दर ज्यादा हो तो बड़ी कंपनियों पर नजर रखें, क्योंकि ऐसी हालत में छोटी और मझोली कंपनियों के मुकाबले बड़ी कंपनियों के शेयर अच्छी स्थिति में हैं। अगर बाजार की हालत थोड़ी कमजोर हो तो बड़ी कंपनियों की तरफ ध्यान रखना चाहिए।

#4. भीड़चाल न चलें अगर आप शेयर मार्केट में पहली बार निवेश कर रहे हैं या आपको निवेश करते हुए ज्यादा टाइम नहीं हुआ है तो आप एक ही क्षेत्र में निवेश न करें और दूसरों के कहने के मात्र से शेयर ना खरीदें। किसी भी कंपनी में निवेश करने से पहले जानकारों से सलाह लें और अगर कोई शक हो तो बिल्कुल निवेश ना करें।

#5. जरुरत पहचानें शेयर बाजार में निवेश करने से पहले अपनी जरुरत को पहचानें यानि आपके शेयर प्रोफिट को निर्धारित करें। इसका मतलब है कि आप ये पहले ही तय करें कि आपको शॉर्ट टर्म, मिड टर्म या लॉन्ग टर्म के लिए निवेश करना है। साथ ही अगर आप लंबी अवधि के लिए पैसा निवेश करना चाहते हैं तो उसके अनुसार निवेस करें। इसलिए जब कभी भी निवेश करें तो अपने निवेश अवधि को जरुर ध्यान में रखें।

#6. शेयरों में निवेश की तैयार करें रणनीति शेयरों में निवेश करने से पहले एक रणनीति तैयार करनी चाहिए। जिसमें शेयर, कंपनी आदि को लेकर रणनीति तैयार करें। आप ये पहले ही तय कर लें कि आपको ईक्विटी, एफडी, प्रैफरेंस शेयर या और कोई शेयर लेना है। इसी के साथ ही शेयर बाजार की स्थिति के देखकर ही निवेश करें।

#7. अपनी रिस्क प्रोफाइल जानें जब कभी भी शेयरों में निवेश करें तो उससे पहले अपनी रिस्क प्रोफाइल के बारे में जान लें। इसका मतलब है कि आप इस बात को जान लें कि आप कितना रिस्क ले सकते हैं और इतने रिस्क तक आपको कोई दिक्कत नहीं होगी। क्योंकि रिस्क लेवल में निवेश करने से नुकसान होने पर भी आपकी आर्थिक स्थिति पर असर नहीं पड़ेगा।

#8. लंबे समय का निवेश ज्यादा बेहतर अगर आप शेयर बाजार में निवेश करना चाहते हैं और ज्यादा परेशानी में नहीं पड़ना चाहते तो आपके लिए लंबे समय का निवेश ज्यादा बेहतर होगा। क्योंकि निवेश जितना लंबा होगा, उतनी ही उसमें रिस्क कम होगी। साथ ही निवेश के लिए म्यूचुअल फंड को प्राथमिकता दें।

तो दोस्तों अगर आप भी शेयर बाजार से पैसे कमाना चाहते है तो पहले इसके बारे में अच्छी तरह से जानिए उसके बाद ही निवेश करे।  हमारे इस आर्टिकल को सोशल मीडिया पर अपने फ़्रेन्डस के साथ शेयर करे. अगर कोई सवाल हो तो नीचे दिए गए बॉक्स में कमेंट करके हमसे पूछे. धन्यवाद।  

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..