gyan ki batein in hindi हर व्यक्ति अपने जीवन के हर क्षेत्र में सफलता पाने का सपना देखता है लेकिन कामयाबी हर किसी को नहीं मिलती है क्योंकि कुछ गिने चुने लोग ही अपने जीवन में कामयाब हो पाते हैं. हालांकि हमारे हिंदू धर्म के शास्त्रों में कई ऐसी बातों का जिक्र मिलता है जिनका अनुसरण करके व्यक्ति अपने जीवन के हर क्षेत्र में कामयाबी पा सकता है. आज हम आपको शास्त्रों में बताई गई पांच ऐसी ज्ञान की बातों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें ध्यान में रखकर आप अपने सभी कामों में सफलता प्राप्त कर सकते हैं.

1- अज्ञानता को दूर भगाएं

अज्ञान या अधूरा ज्ञान इंसान के जीवन में तमाम परेशानियों का कारण बन जाता है क्योंकि किसी भी काम में सफलता पाने के लिए सही ज्ञान का होना बेहद जरूरी है. इसलिए व्यक्ति को अपनी अज्ञानता को दूर करने के लिए हमेशा ज्ञान अर्जित करने के लिए प्रयास करना चाहिए.

आपके पास अगर पर्याप्त ज्ञान होगा तभी आप अपने सामने आनेवाले अवसरों को सही समय पर पहचान पाएंगे और उसका भरपूर लाभ उठा पाएंगे. इसलिए हमेशा अपने ज्ञान को बढ़ाते रहना चाहिए.

2- अहंकार का करें त्याग

जिन लोगों के भीतर अहंकार यानि खुद को श्रेष्ठ समझने की भावना होती है वो अपने जीवन में कभी भी कामयाब नहीं हो पाते हैं. जो लोग खुद को श्रेष्ठ और दूसरों को तुच्छ समझते हैं उनकी सफलता भी अस्थायी होती है.

शास्त्रों में अहंकार के कई उदाहऱण भी मिलते हैं जिनमें से एक है रावण का अहंकार. जी हां, रावण ने खुद को श्रेष्ठ और श्रीराम को तुच्छ समझा था जो उसके पतन का सबसे बड़ा कारण बना.

3- ठीक नहीं है अत्यधिक मोह

किसी भी वस्तु के लिए अत्यधिक मोह रखना इंसान की परेशानियों का कारण बन जाता है. कई लोग मोहमाया के बंधन में बंधकर सही और गलत का भेद भूल जाते हैं.

मोह व्यक्ति को आगे बढ़ने नहीं देता और मोह में बंधा हुआ व्यक्ति अपनी बुद्धि का उपयोग भी ठीक से नहीं कर पाता है और अगर व्यक्ति आगे नहीं बढ़ेगा तो फिर कार्यों में सफलता कैसे मिलेगी.

4- क्रोध है इंसान का सबसे बड़ा दुश्मन

अधिकांश व्यक्तियों को छोटी-छोटी बात पर क्रोध आ जाता है लेकिन शास्त्रों के अनुसार क्रोध व्यक्ति को कभी कामयाब नहीं होने देता है. जो लोग अपने क्रोध पर नियंत्रण नहीं कर पाते हैं वो आवेश में आकर कई बार गलत काम कर देते हैं जिससे उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ता है.
क्रोध के चलते व्यक्ति सही फैसले नहीं ले पाता है जिसके चलते उसे हर कार्य में असफलता मिलती है. इससे बचने के लिए हर रोज कुछ देर के लिए ध्यान लगाना चाहिए क्योंकि ध्यान से क्रोध को नियंत्रित किया जा सकता है.

5- मन में असुरक्षा की भावना

कामयाब होने के लिए व्यक्ति को अपने मन से असुरक्षा की भावना को निकाल देना चाहिए, क्योंकि जिन लोगों में असुरक्षा की भावना होती है वो किसी भी काम को पूरी एकाग्रता से नहीं कर पाते हैं.

ऐसे लोग हर वक्त खुद को असुरक्षित महसूस करते हैं और हर पल खुद को सुरक्षित करने के बारे में सोचते रहते हैं. जिसके चलते उन्हें हर क्षेत्र में असफलता का सामना करना पड़ता है.

बहरहाल ऐसा कहा जाता है कि शास्त्रों में बताए गए इन पांच बातों का अनुसरण करने वाले लोग अपने कार्यों में सफलता पाते हैं और अपने जीवन के हर क्षेत्र में कामयाब होते हैं.

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..