Google tracking phone location इंटरनेट और डिजिटल वर्ल्ड में आपके हर कदम पर निगरानी रखी जा रही है. Google आपकी पूरी इंफॉर्मेशन अपने पास रख रहा है. हर वक्त आप ट्रैक हो रहे हैं. आप सोच रहे होंगे कि इंटरनेट पर आपका पीछा क्यों किया जा रहा है. इसकी वजह पूरी तरह से कमर्शियल है. आपको ट्रैक करके आपकी दिलचस्पी वाले विज्ञापन दिखाना इसका मकसद है.

  आपके हर ‘राज’ जानता है Google गूगल आपके बारे में बहुत कुछ जानता है. गूगल यूजर्स की एक्टिविटीज को ट्रैक करके पैसे बनाता है. सर्च इंजन के रेवेन्यू में ऐडवर्टाइजिंग की एक बड़ी हिस्सेदारी है. इसलिए आपकी Google सर्च, वॉयस सर्च, लोकेशन चेंजेज को गूगल ट्रैक और अपने पास स्टोर करता है. हालांकि, Google का आपकी जानकारी अपने पास रखना साइबर क्रिमिनल द्वारा की जाने वाली ट्रैकिंग जितना खतरनाक नहीं है.

  आपकी आवाज भी रिकॉर्ड कर रहा गूगल आप अपने वॉयस सर्च में जो भी बोलते हैं, गूगल उसे लगातार रिकॉर्ड कर रहा है. एक यूजर के रूप में आप इन प्रत्येक रिकॉर्ड्स को ब्राउज करके सुन सकते हैं. Google का कहना है कि वह अपने लैंग्वेज और रेकग्निशन टूल्स को बेहतर बनाने के लिए वॉयस को रिकॉर्ड करता है ताकि आगे चलकर आपके सर्च रिजल्ट्स को और बेहतर बनाया जा सके. हालांकि, किसी भी यूजर को शायद यह बात ठीक न लगे कि गूगल ने वह सब कुछ रिकॉर्ड किया हुआ है, जो कि उसने अब तक कहा है.

  लोकेशन ट्रैकिंग से ऐसे बचें आपके घर से निकलकर ऑफिस पहुंचने के सफर और हाईवे में आपकी कार कहां पर है, Google इसे भी लोकेट कर रहा है. मॉडर्न टेक्नोलॉजी का फायदा उठाने के लिए हमें अपनी प्राइवेसी से समझौता करना पड़ रहा है. Google Maps अनजाने सफर में हमारी राह आसान बनाता है. Google का हर वक्त आपको ट्रैक करना ठीक नहीं है. आप Google की लोकेशन ट्रैकिंग से बच भी सकते हैं. इसके लिए आपको अपने डिवाइस के सेटिंग्स एप्लीकेशन को ओपन करना होगा. इसके बाद आप Privacy & Safety पर जाएं. यहां जाकर आप लोकेशन को टर्न ऑफ कर सकते हैं. ऐसा करने के बाद गूगल आपकी लोकेशन को ट्रैक नहीं कर पाएगा.

  गूगल में ऐसे डिलीट करें अपने वॉयस और वेब रिकॉर्ड्स Google के माय एक्टिविटी हिस्ट्री पेज पर जाएं. जहां आपको रिकॉर्डिंग की लंबी लिस्ट मिलेगी. यहां से आप स्पेशिफिक ऑडियो पेज पर जा सकते हैं, जहां आपको अब तक दी गई सभी वॉयस कमांड के डिटेल्स मिल जाएंगे. गूगल ने जून 2015 में ऑडियो रिकॉर्ड्स एक्सेसिंग फीचर लॉन्च किया था. गूगल में वेब रिकॉर्ड्स के लिए भी ऐसा ही पेज है. जहां आपको वह सब कुछ दिखेगा, जो कि आपने अब तक वेब में सर्च किया होगा.

अपने वॉयस और वेब रिकॉर्डिंग को रोकने का सबसे बेहतर तरीका है कि आप इन फाइल्स को डिलीट कर दें. आप किसी भी रिकॉर्ड एंट्री पर दिए गए तीन डॉट्स पर क्लिक करके उसे डिलीट कर सकते हैं.

Que.Ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..