2,000 लोगों पर किए गए एक ब्रिटिश सर्वे से ये बात सामने आई है कि सात में से एक वयस्क व्यक्ति का ये मानना है कि उसका वर्तमान साथी या पति या पत्नी उसके लिए जीवन का सच्चा प्यार नहीं है। 

इसके अलावा सर्वेक्षण में शामिल 17 प्रतिशत लोगों का ये कहना था कि वास्तव में उनके मौजूदा साथी से मिलकर उन्हें अपनी जिंदगी से प्यार हो गया, जबकि 46 प्रतिशत ने कहा कि वे जरूरूत पड़ने पर अपने साथी को छोड़ने के लिए भी तैयार हैं। 

हैरानी की बात है जो सामने आई वो ये थी कि पुरुषों अपने प्रेमी या पत्नी के प्रति ज्यादा वफादार साबित हुए हैं। 37 प्रतिशत पुरुषों ने कहा कि वे अपनी पत्नी या प्रेमिका के साथ हमेशा के लिए रहेंगे।

यह चिंताजनक बात है कि कितने सारे लोग ये दावा करते हैं कि वो एक लंबे समय तक किसी के साथ किसी रिलेशन में रहे और यहां तक कि बहुतों ने तो शादी भी कर ली थी लेकिन फिर भी वो उनके जीवन का सच्चा प्यार नहीं है। और अगर लोग एक ही समय पर वास्तव में दो लोगों के साथ प्यार में हैं तो ये उनके खुद के लिए एक बहुत बड़ी दुविधा है।

इसके अलावा अध्ययन में ये भी पाया गया कि 20 प्रतिशत लोग अपने जीवन में पांच बार से ज्यादा दिल टूटने का अनुभव करते हैं। वैज्ञानिकों ने अंत में ये कहा कि ये तो कहना बहुत ही मुश्किल है लेकिन यह देखना दिलचस्प था कि पुरुष और महिला दोनों को ही लाइफ में औसतन दो बार प्यार होता ही है।

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..