Imei number अगर आपका मोबाइल फोन चोरी हो जाए या खो जाए तो चिंता करने की जरूरत नहीं है कारण की उसे ढूंढना अब सरल हो जाएगा क्योंकि सरकार ने मोबाइल के आइडेंटिटी नंबर बदलने पर 3 साल की सजा के प्रावधान कर दिया है। मतलब की अगर कोई जानबूझकर मोबाइल का आई एम इ आई नंबर बदलेगा तो उसे दंड के साथ-साथ 3 साल की सजा भी हो सकती है।

टेलीकॉम विभाग ने इस मामले में 25 अगस्त को एक नोटिफिकेशन भी जारी किया था। इस निर्णय से गलत आईएमईआई नंबर के साथ जुड़े मुद्दे रोकने में और खोए हुए मोबाइल डिवाइस को ढूंढने में मदद मिलने की उम्मीद है। इस नोटिफिकेशन में कहा गया है कि कोई भी मोबाइल के आईएमईआई नंबर के साथ छेड़खानी करेगा तो यह कानूनन अपराध होगा। इस नए नियम को छेड़छाड़ निरोधक नियम 2017 का नाम दिया गया है।
यह कायदा इंडियन टेलीग्राफ कानून की धारा 7 और धारा 25 के संयोजन से बनाई गई है। इसी के साथ टेलीकॉम विभाग एक नई प्रणाली लागू कर रहा है

इसके अंतर्गत किसी भी नेटवर्क पर खो गए या चोरी हुए मोबाइल की सेवा बंद कर सकेंगे भले ही उसमें सिम कार्ड हो या फिर उसका आईएमईआई नंबर बदल दिया गया हो।

Que.Ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..