बेहोशी आने के 5 कारण क्या है मूर्च्छा behosh hona tablet fainting meaning in hindi - Top.HowFN.com

बेहोशी आने के 5 कारण क्या है मूर्च्छा behosh hona tablet fainting meaning in hindi

Behosh ho jana meaning in english Passout जब कोई मनुष्य अपना होश खो बैठता है तो उसे बेहोश हो जाना कहते है. ये वह समय होता है जब हमारे दिमाग को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिल पाती है. हालांकि बेहोश हो जाना किसी खतरनाक बीमारी का सूचक हो ये जरूरी नहीं, लेकिन आपके लिए यह जानना बहुत जरूरी है कि बेहोश होने के क्या-क्या संभाव‍ित कारण हो सकते हैं. ज्यादातर अध्ययन बताते हैं कि लोगों को सबसे ज्यादा वैसोवैगल अटैक पड़ते हैं. जिसमें अचानक से हार्ट रेट या फिर ब्लड प्रेशर का स्तर गिर जाता है. यह अटैक ज्यादातर बच्चों और 35 साल की आयु पूरी कर चुके लोगों को पड़ता है .

अगर आपके सामने कोई अचानक से बेहोश होकर गिर पड़े तो सबसे पहले उसे खुले में ले जाएं. ज्यादातर मामलों में लोग बेहोश पड़े शख्स को घेरकर खड़े हो जाते हैं लेकिन ऐसा करना खतरनाक भी हो सकता है.

खुली जगह पर ले जाने के बाद उसके चेहरे पर पानी के छींटे डालें. उसे थोड़ा पानी भी पिलाएं ताकि उसकी सांसें सामान्य स्तर पर आ जाएं. अगर इसके बावजूद मरीज को आराम न हो तो उसे तुरंत डॉक्टर के पास लेकर जाएं.

बेहोश होने के पीछे हो सकते हैं ये 5 कारण:

1. दिल की धड़कनों का अनियमित होना
दिल की धड़कनों के अनियमित हो जाने की वजह से ज्यादातर लोग बेहोशी का शिकार बन जाते हैं. दिमाग को एक नॉर्मल फ्लो में जब रक्त का संचार नहीं होता है तो ऐसी स्थिति सामने आ जाती है. अगर समय रहते इस समस्या का समाधान नहीं किया जाए तो दिल का दौरा पड़ने की नौबत भी आ सकती है. कई बार रक्त का थक्का भी जमने की वजह से यह स्थिति पैदा हो जाती है.

2. हो सकता है ये गर्भवती होने के लक्षण हों 
कई बार गर्भधारण के दौरान भी बेहोशी छा जाती है. अगर आप अपने गर्भ धारण करने को लेकर आश्वस्त हों तो तुरंत से प्रेग्नेंसी टेस्ट कर लें. आप चाहें तो प्रेग्नेंसी टेस्ट घर पर भी कर सकती हैं और चाहें तो अस्पताल भी जा सकती हैं.

3. पेट खाली होने की वजह से 
कई बार हम बिना कुछ खाए-पिए ही घर से बाहर निकल जाते हैं. जिसके कुछ देर तक तो हमारा शरीर स्फूर्तिवान बना रहता है लेकिन धीरे-धीरे उसकी ताकत खत्म होने लग जाती है और कमजोरी महसूस होना शुरू हो जाता है. कई बार इस वजह के चलते भी चक्कर आ जाते हैं.

4. बहुत ज्यादा भावुक होने पर 
कई बार बहुत खुशी की वजह से तो कई बार बहुत अधिक दुखी हो जाने के कारण भी शरीर का संतुलन बिगड़ जाता है. भावुक होने की स्थिति में ब्लड प्रेशर अचानक से बढ़ जाता है और तेजी से पसीना छूटने लगता है. ऐसी स्थिति में बेहोश होने की आशंका बढ़ जाती है.

5. तनाव की स्थिति भी हो सकती है खतरनाक 
हाइपरटेंशन की वजह से एक ओर जहां कई तरह की बीमारियां हो जाती हैं वहीं ये स्थिति बेहोशी का भी कारण बन सकती है. इसके अलावा ब्लड प्रेशर की समस्या होने की वजह से भी बेहोशी आ जाती है. 

0 Response to "बेहोशी आने के 5 कारण क्या है मूर्च्छा behosh hona tablet fainting meaning in hindi"

Post a comment

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel