इस टाइटल को पढ़कर ही आपका खून खौल गया होगा की कोई कैसे अपनी सारी हदें पार कर सकता हे. आजकल यह पंच लोग अपने आप को कानून से भी बड़ा मानने लगे हे. किस को सज़ा देनी हे, क्या सज़ा देनी हे इसका फैसला भी यह पंच लोग ही करते हे. कहने को हम स्वतंत्र न्याय के देश में रहते हे जहां सबसे बड़ी न्यायपालिका हे, लेकिन फिर भी पीठ पीछे ऐसे घटिया लोग न्याय का मजाक उड़ाते हे.
असल में एक गाँव में पंचायत के फरमान के बाद एक व्यक्ति ने 16 साल की लड़की का उसके परिवार के सामने ही रेप कर दिया. जिस लड़की के साथ रेप हुआ उसके भाई पर आरोप हे की उसने आरोपी की बहन से रेप किया था जिसकी सज़ा उसकी बहन से रेप करके चुकानी पड़ी. इस सिलसिले में पुलिस ने 20 लोगों को गिरफ्तार किया हे. 

यह भी पढ़े चीन की धमकी पहाड़ को हिलाना आसान हे चीनी सेना को नहीं
लड़की के परिवार वालों ने इस फैसले का खूब विरोध किया हे लेकिन पंचायत ने उनकी एक ना सुनी और कहा की न्याय तभी हो सकता हे जब आरोपी की बहन के साथ भी वही सलूक किया जाए जो उसके भाई ने किया हे. जब लड़की के परिवार वालों ने पुलिस में शिकायत की तो पुलिस हरकत में आई और 20 लोगों को गिरफ्तार कर लिया.

सच में आज भी समाज में लडकियों के साथ भेदभाव और रेप जैसी घटनाएँ होती रहती हे. कहने को हम आजाद भारत में रहते हे लेकिन घटिया मानसिकता वाले लोगों ने तो आजादी की परिभाषा ही बदल दी हे. लड़कियों को आज भी ना सही से बोलने की आजादी हे और ना ही खुले में घुमने की आजादी. ना जाने कब यह सब बदलेगा और फिर से हमारा देश सोने की चिड़ियां बनेगा.

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..