Vinod Khanna dead after battling cancer -सिनेमा संन्यास और सियासत के सफर को पूरा करने के बाद फिल्म अभिनेता विनोद खन्ना अंतिम सफर पर निकल चुके हैं।
लंबी बीमारी के बाद मुम्बई के एक निजी अस्पताल में उनका निधन हो गया कुछ दिन पहले एक तस्वीर के वायरल होने के बाद उनकी बीमारी का पता चला। सत्तर और अस्सी के दशक का ये हैंडसम और डेशिंग हीरो इस तस्वीर में काफी कमजोर भी दिखाई दे रहा था। उस वक्त खबरें आई कि वो पिछले एक साल से कैंसर से पीड़ित हैं। जिसके बाद दुआओं का सिलसिला शुरू हुआ। लेकिन इस जानलेवा बीमारी के आगे सारी दुआएं फीकी पड़ गईं और कैंसर उन्हें हम सबसे दूर ले गया।

 हर जगह दोस्ती निभाने के लिए पहचाने जाते रहे 

सिनेमा की दुनिया हो या बॉलीवुड की विनोद खन्ना हर जगह दोस्ती निभाने के लिए पहचाने जाते रहे और दोस्ती का ये सिलसिला उन्होंने आखिरी वक्त में भी निभाया। 26 अप्रैल को जिस दिन उन्होंने आखिरी सांस ली। ये वही दिन है जब 2009 में उनके अज़ीज़ दोस्त फिरोज़ खान का निधन हुआ था। फिरोज खान और विनोद खन्ना फिल्म दयावान, कुर्बानी और शंकर शंम्भू में साथ नजर आए थे। साल 1980 में आई फिल्‍म 'कुर्बानी' ने विनोद खन्‍ना के खाते में एक और हिट फिल्म ला दी थी। इस फिल्म में फिरोज खान निर्माता, निर्देशक और एक्टर तीनों भूमिका में थे। इस फिल्म के बाद फिरोज खान और विनोद खन्ना की काफी दोस्ती हो गई थी

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..