सुकन्या समृद्धि खाता 11 फायदे Sukanya samriddhi yojana post office - Top.HowFN.com

सुकन्या समृद्धि खाता 11 फायदे Sukanya samriddhi yojana post office

लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिये सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya samriddhi yojana account) की शुरुआत की गयी
इस योजना के तहद अगर बेटी 10 वर्ष या उससे कम उम्र की है तो आप पोस्ट ऑफिस में जाकर उसके नाम से खाता खुलवा सकते हैं बेटी की पढ़ाई व शादी के लिए पैसे की टेंशन दूर करने को अब आप डाक विभाग SBI BANK के पास ‘सुकन्या समृद्धि योजना’ का अकाउंट खुलवा सकते हैं
यह खाता बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ योजना के तहत सुकन्या समृद्धि खाता Sukanya Samriddhi जिसमे मुख्यतः ब्याज राशी और टैक्स संबंधी लाभ दिए जायेंगे तथा आपको उस वक्त आर्थ‍िक शक्त‍ि प्रदान करेगा, जब बेटी 21 वर्ष की होगी इस धन को आप उसकी पढ़ाई पर या अन्य किसी कार्य पर भी खर्च कर सकेंगे। या आप चाहें तो अपनी बेटी के भविष्य के लिये आगे फिक्स भी कर सकते हैं।

Sukanya samriddhi yojana Kaise open kare 


इसमें खता खुलवाना बहुत आसान हे आपको अपने निकटतम पोस्टऑफ‍ि में जायें और वहां से सुकन्या समृद्धि योजना का फॉर्म प्राप्त करें



  • आप ऑनलाइन इंटरनेट से इंडिया पोस्ट की वेबसाइट से भी इस फॉर्म को डाउनलोड कर सकते हैं। 
  • बेटी की फोटोग्राफ लगाकर व फॉर्म भर कर उसे पोस्ट ऑफ‍िस में जमा कर दीजिये। 
  • फॉर्म भरें और उसमें सही-सही हस्ताक्षर करें अपना आईडी और एड्रेस प्रूफ की फोटोकॉपी संलंग्न करें अगर आधार कार्ड है, तो उसकी कॉपी संलंग्न करना 
  • ज्यादा बेहतर होगा बेटी के जन्म प्रमाण पत्र की कॉपी अपनी और अपनी बेटी की दो-दो पासपोर्ट साइज फोटो

मुख्य बातें सुकन्या योजना - sukanya samriddhi yojana details 

  1. इस योजना के अंतर्गत आप सालाना न्यूनतम 1 हजार और अध‍िकतम डेढ़ लाख रुपए तक साल में जमा कर सकते हैं।
  2. साल में जितनी बार चाहें पैसा जमा कर सकते हैं।
  3. यह योजना पीपीएफ योजना के समान है। बल्क‍ि यूं कहिये कि पीपीएफ की तुलना में इसमें ज्यादा ब्याज मिलता है।
  4. अगर आप किसी साल पैसा जमा करना भूल जाते हैं, तो आपको 50 रुपए सालाना पैनाल्टी भरनी पड़ेगी।
  5. बेटी की उम्र 18 साल पूरी होने पर आप उसमें से 50 प्रतिशत तक धन निकाल सकते हैं। लेकिन पूरी धनराश‍ि 25 साल की होने पर ही निकाल सकेंगे।
  6. अगर बेटी की 18 साल की आयु में शादी हो जाती है, तो आप प्री-मेच्योर फेसिलिटी के अंतर्गत धन निकाल सकते हैं।
  7. अगर आपकी दो बेटियां हैं तो आप सुकन्या के अंतर्गत दो अकाउंट खुलवा सकते हैं। लेकिन अगर दो से ज्यादा बेटियां हैं, तब भी आप अध‍िकतम दो ही अकाउंट खुलवा सकते हैं।
  8. इस पर किश्त जमा करने की ऑनलाइन सुविधा मौजूद नहीं है। 
  9. इस योजना पर आप किसी भी प्रकार का ऋण नहीं ले सकते हैं।
  10. तो देर किस बात की है, अपनी बेटी के भविष्य को सुनहरा बनाने के लिये आज ही इस योजना में निवेश कीजिये। 
21 साल के बाद scheme बंद हो जाएगी और पैसा गार्जियन को मिल जाएगा अगर बेटी की 18 से 21 साल के बीच मैरिज हो जाती है तो अकांउट उसी वक्त बंद हो जाएगा। अगर पेमेंट लेट हुई तो सिर्फ 50 रुपए की पैनल्टी लगेगी। गार्जियन अपनी दो बेटियों के लिए दो अकाउंट खोल सकते हैं। जुड़वां होने पर उसका प्रूफ देकर ही तीसरा खाता खोल सकेंगे। खाते को आप कहीं भी ट्रांसफर करा सकेंगे।

समझें फायदे को: यदि 2015 में कोई व्यक्ति 1,000 रुपए महीने से अकाउंट खोलता है तो उसे 14 साल तक यानी 2028 तक हर साल 12 हजार रुपए डालने होंगे। मौजूदा हिसाब से उसे हर साल 9.1 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा तो जब बच्ची 21 साल की होगी तो उसे 6,07,128 रुपए मिलेंगे। यहां आपको बता दें कि 14 सालों में इस व्यक्ति को अकाउंट में कुल 1.68 लाख रुपए ही जमा करने पड़े। इसके अलावा बाकी के 4,39,128 रुपए ब्याज के हैं।

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel