पैसा डबल कर सकते हैं योजना पैसों को दोगुना बढ़ाया जाए - Top.HowFN

पैसा डबल कर सकते हैं योजना पैसों को दोगुना बढ़ाया जाए

हम सभी लोग ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाने की चाह रखते हैं और इसलिए हममें से कई लोग दिन-रात मेहनत भी करते हैं। अच्छी लाइफ स्टाइल जीने के लिए भी ज्यादा पैसे की जरूरत पड़ती है। कई लोग पैसे तो खूब कमाते हैं मगर ये नहीं जानते की पैसों को दोगुना कैसे किया जाए या बढ़ाया कैसा जाए।

 हम आपको बताने जा रहे हैं कुछ ऐसे ही उपाए, जिनके जरिए आप सभी कर सकते हैं अपने पैसों को डबल।

आइये जानते हैं वो पांच उपाए जिनसे डबल कर सकते हैं अपना बैंक-बैलेंस...

1. सही समय पर सही फैसला
अपने आर्थिक स्थिति के जिम्मेदार आप स्वयं होते हैं, इसलिए अपने फाइनेंसियल मुद्दों से जुड़े फैसलों पर सोच-समझकर कदम उठाएं। इसके साथ ही सही समय पर सही कदम उठाना भी काफी महत्वपूर्ण है। कई बार लोगों के सामने कई महत्वपूर्ण मौके आते हैं मगर लोग उन्हें नजरअंदाज कर जाते हैं, ऐसे मोकों का भरपूर फायदा उठाना जरूरी होता है।

पोस्ट ऑफिस का प्लान

लोगों को नियमित तौर पर मासिक आमदनी उपलब्ध कराने के लिए डाक विभाग मंथली इनकम स्कीम (एमआईएस) खाता चलाता है। यह खाता खास तौर पर रिटायर्ड कर्मचारियों/ सीनियर सिटिजन्स के लिए उपयुक्त है। इसके अलावा यह खाता उन लोगों के लिए भी फायदेमंद है जिनके पास निवेश के लिए बड़ी राशि हो। इस खाते का मैच्योरिटी पीरियड पांच साल है। इसके साथ बचत खाते में ऑटो क्रेडिट फेसिलिटी भी दी जाती है।
यह खाता अकेले भी खोला जा सकता है और ज्वाइंट रूप से भी। सिंगल अकाउंट में न्यूनतम जमा राशि 1500 रुपए और अधिकतम जमा राशि 4.5 लाख रुपए है। ज्वाइंट अकाउंट में यह सीमा क्रमशः 1500 रुपए और 9 लाख रुपए है। यह योजना ऑटोमैटिक तरीके से काम करती है। आप सेविंग्स बैंक अकाउंट में एमआईएस के ब्याज के ऑटोमैटिक ट्रांसफर का रिक्वेस्ट दे सकते हैं। इस पर अभी 8.40 फीसदी की दर से ब्याज दिया जा रहा है। अगर आपने अपने सिंगल एमआईएस अकाउंट में 4.5 लाख रुपए जमा किए, तो मौजूदा ब्याज दर के हिसाब से आपको हर महीने 3,150 रुपए मिलेंगे। इस योजना से होने वाली ब्याज आय को आपकी टैक्सबेल इनकम में जोड़ा जाता है।

2. भविष्य की योजना
सभी लोगों को अपने भविष्य के लिए एक बढ़िया फाइनेंसियल प्लान जरूर बना लेना चाहिए, जो आपके बुरे वक्त में भी आपकी आर्थिक स्थिति संभालने में कारगर हो। प्लान बनाने भर से ही काम नहीं चलता है, उस प्लान को सावधानी से टाइम-टाइम पर चेक करना भी जरूरी है।

3. फिजूल खर्च पर रोक
सभी लोगों को अपने फिजूल खर्चों पर रोक लगाने की जरूरत होती है। ध्यान रखे कहीं आपके ज्यादातर पैसे व्यर्थ की चीजों में न खर्च हो रहे हों। अपने पैसों को विकेंड पार्टी, शराब पीने, धूम्रपान करने और महंगे गैजेट्स खरीदने में व्यर्थ न करें, इन पैसों को बचाकर बैंक में जमा किया जा सकता है या फिर स्टॉक मार्केट में निवेश किया जा सकता है।
Powered by Blogger.