“सोणिया वे में तेनु प्यार करता रहा और तू गैरा उन्दे मरती रही” कहने वाले ने सच ही कहा हे प्यार से बढ़कर इस दुनिया में कुछ नहीं हे. जिसे मिल जाये उसकी तो लाइफ बन जाती हे, अगर वो उसे अच्छे से निभा सके तो. लेकिन जो सिर्फ एकतरफा प्यार करता रहता हे उसके लिए प्यार जी का जंजाल बन जाता हे.

एकतरफा प्यार में सबसे ज्यादा दर्द इसलिए होता हे क्योंकि आप जिससे प्यार करते हे आप उसके प्यार में पागल हो जाते हे. हर जगह बस वो ही आपको दिखने लगती हे. हर पल आप उसके बारे में सोचने लगते हे. उसकी पसंद की चीजे करने लगते हे. उसकी पसंद-नापसंद का ख्याल रखते हे. आप उसके प्यार में इतना पागल हो जाते हे की आपको उसमे कोई भी बुराई नजर नहीं आती हे. 
जब हम उसके प्यार में इतना कुछ कर लेते हे और हमें वो सब नहीं मिलता हे तो प्यार पर से भरोसा उठ जाता हे. ऐसे में आपका प्यार अपना अस्तित्व भूल जाता हे. जरुरी नहीं की कोई लड़की आपके साथ अच्छे से बात करे और आपको अपना सबसे अच्छा दोस्त माने, तो वो आपसे प्यार करेगी. आपकी फीलिंग्स सिर्फ आपकी ही होकर रह जाती हे. बहुत सी कहानियाँ हे एकतरफा प्यार की.

यह भी पढ़े विपरीत लिंग को आकर्षित करने के तरीके

आपको ऐसा लगने लगता हे जैसे आपके पास से सब कुछ चला गया हे. आपका स्वाभिमान तक मर जाता हे. आप सोचने लगते हे की आप उसके काबिल नहीं हे. लेकिन आप यह भूल जाते हे की क्या पता आपकी जिंदगी में कोई उससे भी अच्छी आ जाये. आपके मन में ऐसे ख्याल आने लगते हे की आप प्यार करने के लायक नहीं हे.

आप उसे किसी और के साथ देखते हे तो आपको जलन होने लगती हे. ऐसा भी हो सकता हे की जिस तरह आप किसी के प्यार में पागल हे वो किसी और के प्यार में पागल हो. प्यार के बदले प्यार मिलना बहुत मुश्किल हे. इसलिए तो एकतरफा प्यार सबसे ज्यादा ताकतवर होता हे.

Que.Ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..