कोटड़ी (मंडावल) की दो सगी बहनों के साथ गांव के ही आरोपी दो चचेरे भाइयों ने 9 महीने पहले ज्यादती की। इससे वे गर्भवती हाे गईं। दोनों बहनों ने बेटियों को जन्म दिया। इसमें से एक मृत पैदा हुई, जबकि छोटी बहन की बेटी जिंदा है। आरोपी पक्ष की धमकियों के कारण पहले पीड़ित पक्ष ने रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई। शनिवार रात माता-पिता थाने पहुंचे और आरोपी चचेरे भाइयों के खिलाफ केस दर्ज करवाया।

crime news balatkar case Rape in India - कोटड़ी निवासी एक व्यक्ति ने शनिवार शाम ताल थाने में रिपोर्ट लिखवाई कि गांव के ही आरोपी राहुल पिता निर्भयसिंह डांगी ने मेरी 19 वर्षीय बड़ी बेटी के साथ 16 जनवरी 2016 को गांव समीप जंगल में ज्यादती की थी। मेरी बेटी आरोपी के खेत पर मजदूरी करने जाती थी। तभी उसने अवैध संबंध बनाए। इससे वह गर्भवती हो गई। आरोपी ने बेटी को धमकी दी थी, इसलिए उसने हमें नहीं बताया। जब बेटी गर्भवती हुई तो काफी दिनों तक हमें समझ नहीं आया। गैस या अन्य बीमारी के कारण पेट उठा हुआ समझकर देसी इलाज कराते रहे। पखवाड़ेभर पहले बेटी को प्रसव पीड़ा हुई और उसने मृत बच्ची को जन्म दिया। इसके बाद पूछताछ में उसने घटना बताई।
आगे जरूर पड़े -  पेट्रोल पंप वाले डालते हैं आपकी गाडी में कम Petrol
आरोपी के चचेरे भाई ईश्वरसिंह पिता कमलसिंह डांगी निवासी कोटड़ी ने मेरी 17 वर्षीय छोटी बेटी के साथ 6 फरवरी 2016 को ज्यादती की थी। उसने भी डर के कारण हमें नहीं बताया। चार दिन पहले छोटी बेटी को भी प्रसव पीड़ा हुई। उसे खारवाकलां अस्पताल ले गए। वहां उसने बेटी को जन्म दिया। दोनों स्वस्थ हैं लेकिन दोनों घटनाओं के बाद से आरोपी लगातार धमका रहे हैं। वे प्रभावी लोग हैं और हम मजदूरी करते हैं। इसलिए डरे हुए हैं। काफी हिम्मत जुटाकर रिपोर्ट लिखवा रहे हैं। ताल थाना प्रभारी आर.सी. कोली ने बताया मामला गंभीर है। दोनों चचेरे भाइयों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है। उन्हें हिरासत में लेकर मामले की जांच की जा रही है

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..