किन्नरों (हिजड़ों) से जुडी 13 रोचक बाते kinner how kinnar are born - Top.HowFN

किन्नरों (हिजड़ों) से जुडी 13 रोचक बाते kinner how kinnar are born


kinner body structure hindi -वीर्य की अधिकता से पुरुष और रक्त की अधिकता से स्त्री का जन्म होता हे और वीर्य तथा रक्त समान हो तो किन्नर सन्तान उत्पन्न होती हे

 hijra meaning हिजड़ा एक ऐसे प्रजाती जो ना तो महिला और नही पुरुष आज की इस पोस्ट में, में आपको किन्नरों से जुड़े कुछ रोचक तथ्यों के बारे में बताऊंगा जो शायद आप नहीं जानते होंगे how kinnar are born यह एक क्रोमोसोमल डिसीज है अक्सर हमारे घर पर शादी-समारोह, फंक्शन, बच्चे या बच्ची का जन्म हो आदि कार्यक्रमों में किन्नर आते हे और दुआएं दे जाते हे और बदले में हमसे नेग लेते हे ! आईये जानते हे इनसे जुड़े कुछ रोचक तथ्य Amazing Fact About hijra
kinner private part photo
  1. किन्नर की दुआएं बुरे समय को दूर करती हे इसलिए किन्नर से एक रुपया लेके अपने जेब में रखे ! इस से धन लाभ की प्राप्ति होती हे !
  2. यदि कुंडली में बुध ग्रह कमजोर हो तो किन्नर को हरे रंग की चूड़ी और साड़ी दान दे !
  3. किसी नए किन्नर को शामिल करने से पहले नाच-गाना और सामूहिक भोज किया जाता है।
  4. देश में हर साल किन्नरों की संख्या में 40-50 हजार की वृद्धि होती है।
  5. कुंडली में शनि, बुध, शुक्र और केतु के अशुभ युग से ब्यक्ति किन्नर या नपुसंक हो सकता हे !
  6. एक मान्यता यह भी हे की ब्रह्माजी की छाया से किन्नरों की उत्पत्ति हुई है।
  7. हमारे देश में किन्नरों की चार देवियाँ हे !
  8. किन्नर समुदाय में गुरू और शिष्य जैसी प्राचीन परम्परा आज भी है।
kinner hijra guptang
9. किन्नर समुदाय के सदस्य स्वयं को मंगल मुखी कहते है क्योंकि ये सिर्फ मांगलिक कार्यों में ही हिस्सा लेते हैं मातम में नहीं। इसलिए अक्सर यह मांगलिक और शुभ कार्यों में ही आते हे किसी शोक या मातम में नहीं !

10. किन्नरों का एक खौफनाक सच यह भी है कि यह समाज ऐसे लड़कों की तलाश में रहता है जो खूबसूरत हो और जो ऊंचा उठने के ख्वाब देखता हो। यह समुदाय उससे नजदीकी बढ़ाकर उसे बधिया कर देताहै। यानी उसके शरीर के उस अंग को काट देना, जिसके बाद वह कभी लड़का नहीं रहता।


11. पुराने समय में किन्नर राजा-महाराजा के यंहा नाच गाना करके अपनी जीविका चलाते थे !

12. किन्नर की मृत्यु के बाद उसका अंतिम संस्कार बहुत ही गुप्त तरीके से किया जाता है। किन्नरों की जब मौत होती है तो उसे किसी गैर किन्नर को नहीं दिखाया जाता। ऐसा माना जाता है कि ऐसा करने से मरने वाला अगले जन्म में भी किन्नर ही पैदा होगा। किन्नर मुर्दे को जलाते नहीं बल्कि दफनाते हैं।

13. किन्नरों की शव यात्राएं रात में निकाली जाती है
Powered by Blogger.