5 तरीके जो बनाते हैं आकर्षक कोई भी दिल दे बैठे Personality development tips hindi - Top.HowFN

5 तरीके जो बनाते हैं आकर्षक कोई भी दिल दे बैठे Personality development tips hindi

स्कूल हो या वर्क प्लेस, दोस्तों के बीच हों या मीटिंग में, आप खुद को साबित तभी कर पाएंगे जब आप में स्मार्टनेस हो। भीड़ में से खुद को आगे ले जाने के लिए जानिए वे पांच तरीके जो आपको आसानी से बना सकते हैं स्मार्ट।
 1 किताबें पढ़ना 
  • किताबें पढ़ने से ज्ञान बढ़ता है और दिमाग के शब्दकोश में भी इजाफा होता है। मगर ऐसा नहीं है कि पढ़ने की अादत के फायदे यहीं तक सीमित हैं। 
  • रोजाना पढ़ने की आदत दिमाग के बाएं हिस्से में टेम्पोरल कॉर्टेक्स की सक्रियता को बढ़ाती है। यह हिस्सा ही भाषाओं को आसानी से समझने का काम करता है। 
  • अमेरिका के एमोरी विश्वविद्यालय के अनुसार इससे कल्पना शक्ति बढ़ती है। उदाहरण के लिए जब व्यक्ति कार चलाने के तरीके पढ़ता है तो वह कार चलाने की कल्पना भी करता है। 
 2 संगीत  
  • वाद्ययंत्र बजाना किसी के लिए शौक हो सकता है तो किसी के लिए संतुष्टि पाने का तरीका इससे मानसिक स्वास्थ्य में फायदा होता है। 
  • बोस्टन के अस्पताल द्वारा की गई रिसर्च बताती है कि इससे बच्चों में रचनात्मकता बढ़ती है। उनका प्रदर्शन बेहतर होता है। 
  • जो बच्चे कोई वाद्ययंत्र बजाना सीखते हैं, वे शब्दों का उच्चारण बेहतर तरीके से करते हैं। उनमें धारा प्रवाह बोलने की क्षमता बढ़ने लगती है। 
 3 व्यायाम
  • ज्यादातर लोग यह तो जानते हैं कि व्यायाम स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है, लेकिन यह नहीं जानते कि यह व्यक्ति को स्मार्ट बनता है। 
  • अमेरिका के डार्टमाउथ कॉलेज की शोध के अनुसार व्यायाम से चीजों को याद रखने की क्षमता बढ़ती है। वहीं पहले इस्तेमाल की गई चीज और वर्तमान में अंतर बेहतर तरीके से समझ आता है। 
  • यह दिमाग में 'ब्रेन ड्राइव्ड न्यूरोट्रॉपिक फैक्टर' का स्तर बढ़ाता है। यह एक तरह का प्रोटीन है, जो याददाश्त के लिए अच्छा होता है।
 4 वीडियो गेम
  • वीडियो गेम की लत जरूर बुरी है, लेकिन दिनभर में इसे कुछ समय के लिए खेला जाए तो यह दिमाग के लिए अच्छा है। 
  • यह वर्किंग मैमरी को बढ़ाता है। यानी उस तंत्र को बेहतर बनाता है, जो निर्णय लेने के लिए जिम्मेदार है और जहां नई-पुरानी सूचनाएं एकत्र होती हैं। 
  • जर्मनी की चैरिट यूनिवर्सिटी के अनुसार 30 मिनट रोजाना वीडियो गेम खेलने से दिमाग का ग्रे मैटर बढ़ता है। इससे तर्क करने व रणनीित बनाने की सूझ-बूझ में भी इजाफा होता है (यहाँ क्लिक से जाने लडकिया 5 तरीके से करती है हस्तमैथुन )
 5 नई भाषा
  • ऐसा नहीं है कि नई भाषा सीखना, नए देश की यात्रा के दौरान ही फायदेमंद होता है। यह दिमाग की कोशिकाओं के बूढ़े होने की गति पर लगाम भी कसता है। 
  • कई तरह की भाषा बोलना मस्तिष्क में काम को बेहतर ढंग से निपटाने की खूबी पैदा करता है। जिन कामों में दिमाग ज्यादा खपाना पड़ता है, वे भी आसान लगने लगते हैं। 
  • सिर्फ दो या उससे अधिक भाषा का अच्छा ज्ञान रखने वाले पहेलियां सुलझाने, योजना बनाने और कार्य प्रबंधन में दूसरों से बेहतर साबित होते हैं।

No comments

मोबाइल नो. ना डाले नेट पर सभी को देखेगा सिर्फ अपने विचार दे कमेंट्स बॉक्स में ✓ Notify me क्लिक करले अगले 48 घंटे में जवाव देने का प्रयास करेगे, विज्ञापन कमैंट्स ना करे 1 घंटे के अंदर हटा दी जाएगी विज्ञापन चार्ज पे कर Ads दिखाए

Powered by Blogger.