Oats benefits weight loss skin side effects how to eat ओट्स हिंदी में जई कहा जाता है wikipedia यह हमारे त्वचा, वजन घटाने, मधुमेह, गर्भावस्था और बालो के लिए फायदेमंद है क्योकि इसमें कैल्शियम, फास्फोरस पोटैशियम व् फाइवर्स और बीटा ग्लूकॉन से भरपूर है जो हमारे कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करता है अच्छी मात्रा में होते है जो स्वस्थ के लिए बेहद आवश्यक है Oats एक पौष्टिक आहार है जो हमारे पेट भी भरता है और सेहत का भी ध्यान रखता है

 Benefits of eating oatmeal 
संपूर्ण ओट्स एंटीऑक्सिडेंट्स में अमीर हैं, जिसमें ऐवनेंथ्रामिड्स भी शामिल हैं। ...
ओट में बीटा-ग्लुकेन नामक एक शक्तिशाली घुलनशील फाइबर शामिल हैं ...

Antioxidants ओट्स में कई सारे जरुरी एंटीऑक्सिडेंट होते हैं, जिनमें एवनेंथ्रामिड्स भी शामिल हैं। उच्च रक्तचाप को कम करने में मदत के साथ ही यह शरीर के रोग प्रतिरोध क्षमता को भी बड़ाता है| Beta-glucan ओट्स में बीटा- ग्लूकॉन की मात्रा भी काफी होती है जो रक्त के साथ जल्दी घुल जाता है| बीटा- ग्लूकॉन शरीर में कोलेस्ट्रॉल और मधुमेह को नियंत्रित करने के साथ ही हानिकारक बैक्टीरियाओ से सुरक्षा प्रदान करता है|

कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित ओट्स एल डी एल कोलेस्ट्रॉल (LDL cholesterol) को नियंत्रित करता है जिससे हार्ट सम्बन्धी समस्साए कम हो जाती है और ह्रदय रोग की आशंका भी कम रहती है|

Blood sugar ओट्स वजन को कम करता है और साथ ही रक्त में शर्करा को नियंत्रित भी करता है| साथ साथ ओट्स में रहनेवाले फाइबर इन्सुलिन की मात्रा को सही रखने में काफी मदत करता है| इसलिए ज्यादा वजनवाले व्यक्ति जो डाईबेटिस से भी ग्रस्थ है उनके लिए ओट्स खाना काफी लाभदायक होता है|

how to prepare oatmeal to lose weight ओट्स में फाइबर की मात्रा काफी अच्छे होने से यह पूरा दिन पेट भरा हुआ रखता है जिससे ज्यादा भारी-भरकम खाना खाने की जरुरत नहीं होती| इसलिए अपने पोषण को कम ना करके ही जो लोग वजन कम करना चाहते हैं उनके लिए ओट्स सबसे अच्छा नाश्ता माना जाता है|
  Skin जई का दलिया अगर आप रोज नास्ते में लेते हैं तो उससे आपके चहेरे पर निखार तो आएगी साथ ही आप को यह जानकर भी अच्छा लगेगा की बहुत से स्किन केयर प्रोडक्ट में ओट्स प्राकृतिक हर्ब के रूप में इस्तेमाल किया जाता है|यह एक्जिमा सहित कई सारे समस्याओ से त्वचा को सुरक्षा प्रदान करती है|

  कॉन्स्टिपेशन आजकल हम सबसे ज्यादा परेशान रहते हैं कब्ज या कॉन्स्टिपेशन को लेकर| आजकल के जीवनशैली के कारण और फ़ास्ट फ़ूड आदत के चलते हम अक्सर इस समस्या का सामना करते ही है| पर अगर आप रोज एक सही मात्रा में ओटमील लेते हैं तो यह आपके कॉन्स्टिपेशन में मदत करके आपको सुकून देता है|

  विटामिन और मिनरल ओट्स में बहुत मात्रा में विटामिन और मिनरल के साथ साथ मैंगनीज होने के कारण यह हमारे हड्डियों के लिए काफी अच्छा है| अक्सर हमारे हड्डियों में पोषण के अभाव से एक उम्र के बाद कमजोरी आ जाती है, इसलिए अगर हम रोज के फ़ूड रूटीन में ओट्स को रखे तो उससे हड्डियों को जरुरी पोषण मिलता है जो हड्डियों के क्षयरोग को कम करता है

DISADVANTAGE wikipedia हानि यह है कि उन्हें प्रोटीन और तेल के उच्च स्तर होते हैं इसके अलावा ओटमील खाने की नियमितता के साथ एक वैकल्पिक गंभीर मुद्दा बोरियत है

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..