हरदम आपके साथ रहने वाला मोबाइल और कंप्यूटर आपकी हर लोकेशन को ट्रैक करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। लेकिन आपकी लोकेशन तभी तक ट्रैक की जा सकती है जब तक आप लोकेशन सर्विसेज बंद ना कर दें। लेकिन इसका एक अपवाद भी है। अगर आपका फोन एंड्रॉयड है तो लोकेशन सेवाएं बंद करने पर भी आपको ट्रैक किया जा सकता है। गूगल आपकी लोकेशन सेवाएं बंद होने के बावजूद उस सूरत में आपको ट्रैक कर सकता है जब आप वाई-फाई का इस्तेमाल कर रहे हो। अगर आपके डिवाइस में सिम भी न हो तब भी गूगल आपको ट्रैक कर सकता है।

पिछले एक साल से गूगल कर रहा ट्रैकिंग:

गूगल बीते एक साल से ऐसा कर रहा है। लेकिन अब गूगल की यह चोरी पकड़ी गई है और कंपनी ने कहा है की इसे बंद कर दिया जाएगा। कंपनी के मुताबिक इस साल की शुरुआत में मैसेज डिलीवरी की स्पीड और परफॉरमेंस को सुधारने के लिए सैल आईडी कोड्स का इस्तेमाल किया जाने लगा था। लेकिन गूगल ने यूजर्स को इस बारे में सूचना तक जारी नहीं की थी। गूगल के अनुसार- यूजर लोकेशन से जो डाटा कलेक्ट किया जाता है, उसे किसी के साथ शेयर नहीं किया जा सकता। लेकिन इसके बावजूद यह यूजर्स के लिए सुरक्षित नहीं है। ऐसी स्थिति में अगर आपका फोन हैक हो जाता है तो दूसरे लोग बिना आपकी और गूगल की जानकारी के लोकेशन ट्रैक कर पाएंगे।

गूगल डाटा कलेक्शन करेगा बंद:

गूगल ने यह जरूर बोल दिया की वो अब डाटा कलेक्शन बंद कर देगा, लेकिन वो ऐसा क्यों करेगा इस पर कुछ नहीं कहा गया है।

फोन में सर्च phone location ऑफ करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करे:
  • पहले सेटिंग में जाएं
  • अब लोकेशन का चयन करें
  • यहीं पर Location off का ऑप्शन दिखेगा
  • अपनी लोकेशन हिस्ट्री देखने के लिए आपको Google Location History ऑप्शन दिखेगा, इसमें देख सकेंगे कि आपने जीमेल कहां-कहां से एक्सेस किया था।
  • आप चाहे तो अपनी लोकेशन हिस्ट्री डिलीट भी कर सकते हैं, इसके लिए नीचे की तरफ Delete Location History का ऑप्शन उपलब्ध होगा।
आपकी लोकेशन का पता सिर्फ फोन से ही नहीं, बल्कि कंप्यूटर से भी आसानी से लगाया जा सकता है। आप कब और क्या कर रहे थे जब कुछ आसानी से ट्रैक किया जा सकता है।
इसलिए कंप्यूटर पर भी इसका उपयोग कर सकते है और बंद भी कर सकते हैं।
  • जीमेल के menu में map का ऑप्शन उपलब्ध रहता है
  • मेन्यू ओपन करते ही बाएं ओर टॉप पर menu button दिखेगा, इसे क्लिक करें
  • अब आप देखेंगे कि मेन्यु पैनल में एकदम नीचे History का विकल्प उपलब्ध है। जैसे ही आप इसे open करेंगे, आपके सामने overall search History खुल जाएगी। इस हिस्ट्री को आप दिन, महीना और साल के अनुसार सर्च कर सकते हैं। यहां आपको व्यापक तौर पर अपनी एक्टिविटी लिस्ट मिल जाएगी, जिसमें लिखा होगा कि आपने कब और किस समय कौन सी साइट ब्राउज की, किस फोन में किया इत्यादि।
  • इधर भी आपके लिए Delete History का विकल्प उपलब्ध होगा, बस उसपर क्लिक करें तब वह आपसे एक्शन के कंफर्मेशन के लिए पूछेगा और तब आप Ok करके हिस्ट्री डिलीट कर सकते हैं।

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..