Hindustaani होने पर हमे सबसे ज्यादा proud hai | जब बात भारत की आती है तो हम गर्व से कहते है के हमने दुनिया को शून्य दिया| bharat ने 0 ke अलावा भी काफी सारी चीजें world ko दी है| और ज्यादातर लोगों को उन सब invention ke बारे में जानकारी जरूर होगी|
आज की इस पोस्ट में हम आप सब को ऐसे कुछ आविष्कारों के बारे में बताएंगे जो आजादी के बाद खोजे गए है| नीचे बताए गए सारे invention भारतीयों द्वारा खोजे है| तो चलिए बिना किसी देरी के शुरू करते है|
#1 दो सीटर petrol engine 
इसका invention Indian engineer gopal swami naaidu ne किया था| उनको भारत के adison के नाम से जाना जाता था| आजादी के करीब पाँच साल बाद यानी के साल 1952 में उन्होंने दो सीटर petrol car का invention kiya था| उस वक्त यह कारनामा कोई और कर नहीं पाया था| लेकिन यह उन्होंने कर दिखाया था| सरकारी कारणों की वजह से कार का production stop कर दिया गया था| कार का अलावा उन्होंने सुपर थिन शेविंग ब्लेड, टेम्पर प्रूफ वोटिंग मशीन और जूस एक्सट्रैक्टर जैसी machines का invention था|
#2 हम सब जानते है computer जगत में इंटेल का कितना महत्वपूर्ण योगदान है| intel एक प्रोसेसर बनाने वाली company है| इंटेल के पेंटियम प्रोसेसर ने इंटेल को काफी मशहूर बनाया है| यह प्रोसेसर आज भी आपको काफी सारे कंप्यूटर और लैपटॉप के अंदर देखने को मिलेंगे| पेंटियम चिप भारतीय इंजीनियर विनोद धाम ने बनाया है| विनोद धाम ने अपनी पढाई delhi इंजीनियरिंग कालेज से की थी| उन्होंने इलेक्ट्रिकल शाखा में अपनी इंजीनियरिंग की डिग्री पूरी की है|
#3. ईमेल:
एक दौर था जब हम अपने संदेश कागज पर लिखकर भेजते थे| लेकिन कंप्यूटर आने के कारण सब कुछ बदल गया| सन्देश भेजने के लिए ईमेल का इस्तेमाल किया जाने लगा| WhatsApp aur Facebook के इस जमाने में आज भी ईमेल का इस्तेमाल काफी किया जाता है| लेकिन क्या आपको पता है ईमेल का का आविष्कार किसी गोरे ने नहीं बल्कि एक भारतीय ने किया था| email का आविष्कार शिवा अय्युदुराई ने किया था| उन्होंने email की ख़ोज तब की थी जब वह सिर्फ 14 साल के थे|


#4. युएसबी (USB)
USB (Universal Serial Bus) एक पोर्ट है जो आपको हर एक कंप्यूटर और टीवी में देखने को मिलेगा| यह पोर्ट आपके पॉवरबैंक और बाकी electronic चीजों में भी देखने को मिलता है| इस पोर्ट का आविष्कार Ajay bhatt ने किया था| उन्होंने इलेक्ट्रिकल फिल्ड में काफी सारे योगदान दिए है| USB पोर्ट के अलावा उन्होंने AGP (Accelerated Graphics Port) को भी डिज़ाइन किया है|



check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..