मुंबई ईस्ट से एक दिल दहला देने वाली खबर आई हे. 9th क्लास के 14 साल के छात्र मनप्रीत ने 6 मंजिला बिल्डिंग से कूदकर जान दे दी. पुलिस के मुताबिक यह खुदखुशी हे, हालाँकि मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला हे. मनप्रीत के दोस्तों का कहना हे की यह घटना इन्टरनेट गेम का नतीजा हे. छत से कूदने से पहले वह ब्लू व्हेल चेलेंज गेम खेल रहा था. इस गेम में कुल 50 लेवल होते हे. छत से कूदकर जान देना इस गेम का 50 वां लेवल था.
पुलिस के मुताबिक उसने छत पर स्मार्टफोन से कुछ फोटो लेकर अपने दोस्तों को भेजे थे. गूगल पर सुसाइड के तरीके भी सर्च किये थे. मनप्रीत के परिजन ने बताया की उसे कभी डिप्रेशन में नहीं देखा. मौत से पहले वह दोस्तों से कह रहा था की वो जल्द ही रूस जाने वाला हे. वहां एक सीक्रेट ग्रुप हे जो उसके साथ गेम खेल रहा हे. अब तक इस गेम को खेलने वाले 200 लोग सुसाइड कर चुके हे. अकेले रूस में 130 जाने गई हे. भारत में यह पहला मामला बताया जा रहा हे. 

यह भी पढ़े BJP नेता ने किया चलती बस में सेक्स

क्या हे “द ब्लू व्हेल गेम”?
यह गेम रूस के 25 वर्षीय युवा फिलिप बुडेकीन ने 2013 में बनाया था. इसमें यूजर को 50 दिन तक टास्क बताये जाते थे. हाथ पर ब्लेड से F57 उकेरकर फोटो भेजने को कहा जाता हे. सुबह 4 बजे उठकर होरर मूवी देखने को कहा जाता हे. सुबह ऊँची से ऊँची छत पर जाने को कहा जाता हे. हर टास्क पूरा होने पर हाथ पर एक कट लगाने को कहा जाता हे, आखिर में व्हेल की आकृति उभरती हे. गेम के 50वें दिन प्लेयर को जान देकर विजेता बनाने की बात कई जाती हे.

गेम बनाने वाला जेल में
रूस में इस गेम से सुसाइड का पहला मामला 2015 में आया था. इसके बाद गेम मेकर फिलिप को जेल भेजा गया. उसने बताया की गेम समाज की सफाई के लिए हे. गेम करने वाले “बायोलोजिकल वेस्ट” थे.

Que.Ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..