गूगल को हम सब जानते हे और हर कोई इसका यूज़ करता हे. किसी भी चीज के बारे में जानना हो सीधा गूगल महाराज के पास जाते हे. यह हमारे हर मर्ज की दवा हे. गूगल की छवि एक उदार कम्पनी की छवि हे. लेकिन हाल ही में गूगल ने अपने एक सॉफ्टवेयर इंजिनियर को बर्खास्त किया हे, आखिर इसके पीछे क्या कारण हे आईये जानते हे.

Google Employess Bad Thinks

बचपन से ही शतरंज में महारात रखने वाले जेम्स को इस खेल में कई पुरस्कार मिले हे. गूगल ने उन्हें चार वर्ष पहले अपने यहां सॉफ्टवेयर इंजिनियर नियुक्त किया. लेकिन हाल ही में जेम्स ने पुरुष और महिलाओं में भेद को उठाते हुए यह बात कही थी की “महिलाएं कार्यस्थल पर जेनेटिक कारणों से सक्षम नहीं रह पाती हे. उन्होंने यह 10 पेज में लिखा और कम्पनी को भी मौन रहने के लिए कोसा.” उनका तर्क यह था की जैविक कारणों से ही महिलाओं की टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में कमी हे. इसे जेम्स ने ‘गूगल आइडियोलोजिकल इको चेम्बर’ शीर्षक के तहत लिखा.

इसके 72 घंटे के अंदर ही जेम्स को बर्खास्त कर दिया गया. जब जेम्स चीन की 12 घंटे की फ्लाइट में थे, तब उन्होंने इसे लिखा और इसके बाद से जेम्स की आलोचना होने लगी. आलोचना के बाद से गूगल ने जेम्स को बर्खास्त कर दिया, क्योंकि गूगल एक उदार कम्पनी हे और वहां के कमर्चारी की ऐसी घटिया सोच गूगल बर्दास्त नहीं कर सकता.

इस बात से आश्चर्य हे की गूगल जैसी कम्पनी में कोई शख्स इस तरह लिख सकता हे. लेकिन तब तक कम्पनी फैसला ले चुकी थी. जेम्स ने अपने इस कथन के लिए माफ़ी नहीं मांगी हे. जेम्स का कहना हे की वह अब कम्पनी पर क़ानूनी कार्यवाही करेंगे.

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..