आपको यह जानकार हैरानी होगी की क्या कभी ऐसा भी हो सकता हे क्या जहां लड़कियां बिना कपड़ो के काम करती होगी. विदेशों में तो छोटे कपड़ो का चलन हे और वहां लडकियां ज्यादातर ऐसे कपडे ही पहनती हे और पश्चिमी देशों में भी ऐसा होता आया हे. भारत में ओरतों के काम पर जाने से भी लोग टिप्पणी करते नहीं थकते. आज में आपको एक ऐसी जगह के बारे में बताऊंगा जहां महिलाएं बिना कपड़ो के काम करती हे. 
Girls Word Without Cloths
लन्दन में एक हाउस क्लीनिंग कम्पनी हे जहाँ की महिलाएं बिना कपड़ों के काम करती हे. यह कम्पनी घरों में साफ़-सफाई की सर्विस देती हे. यह कम्पनी खुद को प्रकृतिवादी कहती हे. कम्पनी की सोच तो मॉडर्न हे ही साथ में काम करने वाली महिला कर्मचारियों की सोच भी बहुत खुली हे. यहाँ के लोग आजादी को अलग ही मायने से देखते हे. यहाँ की महिला कर्मचारी बिना कपड़े पहने काम करती हे और इसके बदले में इन्हें ज्यादा सैलरी मिलती हे. 

यह भी पढ़े जानिये दुनिया के अजीबो-गरीब फेस्टिवल

कितने पैसे मिलते हे
इस कम्पनी की महिलाएं सिर्फ दस्ताने पहनकर ही काम करती हे. अगर महिलाएं बिना कपड़ो के काम करती हे तो उन्हें एक घंटे के लिए 65 पाउंड दिए जाते हे और अगर वही काम महिलाएं कपडे पहनकर करे तो उन्हें एक घटने के 25 पाउंड मिलते हे.

कम्पनी की शर्त
कम्पनी की शर्त के मुताबिक ग्राहक काम करने वाली महिलाओं को सिर्फ देख सकते हे लेकिन उन्हें छु नहीं सकते हे. यहाँ की महिलाएं बहुत खुबसूरत हे. साथ में अपना काम भी अच्छी तरह से करती हे. लेकिन एक बात समजने की हे की क्या मॉडर्नवाद के नाम पर ऐसी सर्विस देना सही हे क्या?

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..