अप्रैल लगते ही सबसे बड़ा अप्रैल फूल तो SBI बैंक ने बनाये हे. इसके new rules को देखते ही ऐसा लगता हे जैसे सालों की कसर निकाल रहा हे. अगर आपका खाता भी SBI में हे तो यह पोस्ट आपके लिए हे. जैसे-जैसे आप यह पोस्ट पूरी पढेंगे वैसे-वैसे आपको अटैक आने लगेंगे. SBI ने इतनी पेनल्टी लगाईं हे की आप कभी सपने में भी सोच नहीं सकते. आईये जानते हे SBI के new rules के बारे में.
Sbi New Rules And Penalty

25 हजार या उससे ज्यादा औसत बैलेंस वाले खाताधारकों के लिए अनलिमिटेड नेट बैंकिंग ट्रांजेक्शन
स्टेट बैंक ऑफ़ इण्डिया के ऐसे ग्राहक जिनके खाने का औसत मासिक बैलेंस एक हजार से 25 हजार के बीच है, वे 1 अप्रैल से महीने में एटीएम पर 5 ट्रांजेक्शन फ्री में कर सकते हैं. खाताधारक अपनी ब्रांच में कैश जमा भी सिर्फ तीन बार ब्रांच में कैश जमा कराने यह एटीएम से कैश निकालने पर प्रत्येक ट्रांजेक्शन पर सर्विस टैक्स सहित 58 रुपए चार्ज लगने शुरू हो गए हैं. हालाकि, 25 हजार से ज्यादा औसत बैलेंस वाले खाताधारकों के लिए इन्टरनेट या मोबाईल बैंकिंग ट्रांजेक्शन की कोई सिमा नहीं हैं.

सेविंग या करंट अकॉउंट होल्डर पर भी दो लाख रुपए से ज्यादा कैश लेन-देन पर उस ट्रांजेक्शन के बराबर ही पेनल्टी लगेगी. हलाकि, सीनियर सिटीजन और बच्चो के अकाउंट पर यह चार्ज नही लगेगा. साथ ही बैंक खाते में न्यूनतम बैलेंस रखने की अनिवार्यता भी लागु हो चुकी है. इसमें सेविंग अकाउंट में दो हजार रुपए और करंट अकाउंट में 10 हजार रुपए न्यूनतम बैलेंस रखना जरूरी होगा. इसकी गणना मासिक एवरेज बैलेंस के आधार पर होती है. इससे कम बैलेंस होने पर सेविंग अकाउंट के लिए 575 रुपए पेनल्टी लागु है.

यह भी पढ़े पेट में गैस की समस्या, लक्षण और उपचार

अतिरिक्त चेक बुक पर भी चार्जेज
करंट या सीसी अकाउंट के लिए 50 चेक के बाद अतिरिक्त 25 चेक की बुक के लिए 75 रुपए और सर्विस टैक्स लगेगा. इसी तरह, बचत खाता धारक के लिए पहली 25 चेक की बुक फ्री मिलेगी, जबकि इसके अलावा 25 चेक की बस के लिए 75 रुपए व सर्विस टेक्स लागु होगा.

एटीएम कार्ड खोया या पिन नम्बर भूले, तो भी चार्ज
मौजूदा एटीएम कम डेबिट कार्ड खो जाने पर डुप्लीकेट कार्ड जारी कराने के लिए 300 रुपए और 45 रुपए सर्विस टैक्स लगेगा. एटीएम पिन नम्बर भूलने पर नए जारी कराने के लिए 50 रुपए व 18 रुपए टैक्स देना होगा.

खाता बन्द करने के लिए भी चार्जेज तय
बैंक में खाता खुलवाने के बाद ग्राहक इसे बन्द कराना चाहेगा, तो उस पर भी शुल्क लगेगा. इसमें सेविंग अकॉउंट, जिसे खुलवाने के छह माह के भीतर बन्द कराने पर 575 रुपए ओ छह माह से एक साल के भीतर बंद कराने पर 1150 रुपए शल्क लगेगा. करंट अकाउंट बन्द कराने पर 1150 रुपए लगेंगे.

चेक रिटर्न हुआ, तो भारी पेनल्टी
खाते में बैलेंस अपर्याप्त होने की वजह से चेक रिटर्न होने पर 575 रुपए चार्ज लगेगा. तकनीकी कारण से चेक रिटर्न होने पर 173 रुपए पेनल्टी लगेगी.

दो लाख से ज्यादा कैश लेन-देन पर पाबंदी
1 अप्रैल से नकद लेन-देन की सीमा दो लाख रुपए है. इससे ज्यादा रकम लेने वालो से पूरी रकम के बराबर जुर्माना लिया जाएगा. ब्लेक मनी पर रोक लगाने के लिए केश ट्रांजेक्शन लिमिट घटाने के लिए यह नियम लागु किया गया है. नए नियम के मुताबिक एक दिन में एक व्यक्ति द्वारा एकल ट्रांजेक्शन या एक ही बिल के दो टुकड़ो में भुगतान को भी पेनल्टी के दायरे में रखा गया हैं.

उदाहरण के लिए, एक व्यक्ति दो बिल से बदले सवा दो लाख रुपए का भुगतान टुकड़ो में स्वीकार करता है, तो भी इस पर पेनल्टी लगेगी. एक ही बिल की भुगतान राशि अलग-अलग दिन में टुकड़ो में लेना, बैंक से एक साथ दो लाख रुपए या इससे अधिक की राशि निकालने, किसी भी व्यक्ति द्वारा एकमुश्त दो लाख रुपए नकद किसी भी तरह से लेने की स्थिति में भी पेनल्टी लगेगी.

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..