Jio hindi news - रिलायंस जियो का आना पुरानी टेलीकॉम कम्पनियों पर बहुत भारी पड़ा है. जियो की लॉन्चिंग के बाद सात महीने में इसकी पेरेंट कम्पनी रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैप तो एक लाख करोड़ रुपए से ज्यादा बढ़ गया, लेकिन आइडिया और आरकॉम के बाजार पूंजीकरण में 6,800 करोड़ रुपए से ज्यादा की गिरावट आई है.
इस अवधि में एयरटेल के मार्केट कैप में जरूर 3,900 करोड़ रुपए का इजाफा हुआ है, लेकिन 31 मार्च को जियो के 'समर सरप्राइज ऑफर' के ऐलान के बाद सोमवार को इसे भी करीब 3,300 करोड़ रु. का नुकसान झेलना पड़ा.
After Lounching JIO Telecom Compnies Condition  

जियो के बाद दूसरी कम्पनियो पर बढा बड़े ऑफर लाने का दबाव - जियो के 'समर ऑफर' के बाद दूसरी कम्पनियों अपने ग्राहकों को बनाए रखने के लिए लुभावने ऑफर ला सकती है. डॉयचे बैंक ने रिसर्च में कहा है की पुरानी कम्पनियो को इससे नुकसान होगा, फिर भी वे ग्राहकों को बनाए रखने की कोशिश करेंगी. भारती, वोडाफोन और आइडिया के पास जियो को टक्कर देने के लिए पर्याप्त 4जी स्पेक्ट्रम है. सिटी रिसर्च ने कहा है की शुल्क के बाद भी ज्यादातर ग्राहकों ने जियो को छोड़ा नही. पुरानी कम्पनियो को मिड/हाई लेवल ग्राहकों को रोकने के लिए ऑफर लाना पड़ेगा.

यह भी पढ़े बिना इन्टरनेट ऐसे ले वेबसाइट से जानकारी

ट्राई ने कहा, जियो की डॉउनलोड स्पीड दूसरी कम्पनियो से दोगुनी

टेलीकॉम रेगुलेटर ट्राई ने डॉउनलोड स्पीड के आंकड़े जारी किए हैं. इसके मुताबिक जियो की स्पीड एयरटेल और आइडिया से लगभग दोगुनी है. जनवरी में जियो की औसत स्पीड 17.42 एमबीपीएस थी, जो फरवरी में कुछ कम 16.48 रही. आइडिया की स्पीड 8.33 और एयरटेल की 7.66 एमबीपीएस आंकी गई है. वोडाफोन की स्पीड 5.66 एमबीपीएस है. स्पीड को लेकर जियो और एयरटेल आमने-सामने हैं. निजी कम्पनी ऊकला के नतीजो के आधार पर एयरटेल 'सबसे तेज नेटवर्क' का विज्ञापन दे रही है. जियो ने इसे चुनोती दी है.

अब आगे देखते हे और क्या होता हे. सुना हे की JIO सस्ती DTH सर्विस लाने वाली हे. अगर ऐसा होता हे तब तो बाकि टेलिकॉम कंपनियों को सामान बांधना पड़ सकता हे. लेकिन इतना तो पक्का हे की कुछ भी हो user को तो बहुत फायदा होने वाला हे. जुग-जुग JIO.

Que.Ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..