कुछ समय से देखा जा रहा हे की ऑनलाइन इंटरनेट website की संख्या दिन दूनी रात चौगनी बढ़ती जा रही हे। और हो भी क्यों न इंटरनेट पर सबकुछ जो मिलता हे देश विदेश की जानकारी डॉक्टर को दिखने से पहली ही रोग के लक्षण डालो और जानकारी ले लो पर क्या कभी अपने सोचा आखिर जो जानकारी हम इंटरनेट से ले रहे हे सामने वाला जो वेबसाइट या ब्लॉग बनाये हे डॉक्टर है भी की नहीं...ऐसी कई ब्लॉगर की भरमार हे जो हेल्थ से रिलेटेड जानकारी ऑनलाइन कर देते हे कुछ नहीं तो facebook page बना कर ही देशी उपचार लिख देते हे बड़े से बड़ा डॉक्टर भी बिना देखे फोन या बिना पेसेंट को देखे उपचार नहीं बताता और ऐसे कई लोग 100% इलाज करके लिखे जा रहे हे
फिलहाल मेंन टॉपिक पर आते है
  • मुद्दे की बात ये हे की गूगल सर्च रिजल्ट में नया अपडेट हुआ है जो लगभग सभी वेबसाइट को प्रभावित कर सकता हे जो साइट गूगल टॉप रैंक में रहती थी अब उनका बदलाब कर दिए हे गूगल सर्च ने अब और अधिक मेहनत करनी होगी आगे पढ़े -Google सर्च कैसे सेट करता है वेबसाइट रैंक

जिनकी वेबसाइट गूगल में आती हे उनको अपनी पोजीशन बनाये रखना आसान नहीं और जो भी नए ब्लॉगर हे उनको अधिक से अधिक फ्रेस कंटेंट लिखना होगा और वेबसाइट को अधिक से अधिक लोगप्रिये बनाना होगा तब जाकर साइट का फ्यूचर होगा
इसके पीछे की बजय तो साफ़ नहीं हो पायी हे आज की डेट में गूगल से बड़ा कोई सर्च इंजिन नहीं तभी तो सभी वेबसाइट को गूगल पर निर्भर रहना होता हे तो ट्रैफिक कहा से मिले जब गूगल ही बहुत सा ट्रैफिक ads में बेच देता हे

हाँ इतना हो सकता हे की हमें खुद ही एक दूसरे की वेबसाइट के बारे में लोगो को बताते रहना चाहिए और तभी ट्रैफिक सही मैंटेन रहेगा आपके विचार हो इस टॉपिक से रिलेटेड तो हमें बताये कमैंट्स में 

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..