डिप्रेशन की पहचान, कारण, क्या करें ayurvedic treatment for depression - Top.HowFN.com

डिप्रेशन की पहचान, कारण, क्या करें ayurvedic treatment for depression

depression ka desi ilaj in hindi best ayurvedic medicine for depression solution of depression video depression se chutkara in hindi depression books in hindi solution for depression and stress mental depression
Depression meaning in hindi - अवसाद, आजकल बढ़ता स्ट्रेस और डिप्रेशन सुसाइड की मुख्य वजह बन चुका है यंगस्टर्स में डिप्रेशन ज्यादा बढ़ रहा है. स्ट्रेस और डिप्रेशन में मूड स्विंग होता है. स्ट्रेस का सीधा असर मेंटल हेल्थ पर पड़ता है, जिससे बेचैनी और डिप्रेशन में आना शुरू हो जाता है.

डिप्रेशन में पेशेंट ट्रांसफैट, नमक और शुगर युक्त्त चीजे खाना शुरू कर देते हैं. इससे मोटापा, हार्ट डिजीज, हाइपरटेंशन और डायबिटीज की रिस्क बढ़ जाती है. डिप्रेशन ज्यादातर लोगो को तम्बाकू, अल्कोहल और नशा करने का आदि बना देता है.

कैसे पहचानें डिप्रेशन को
ठीक से नींद नही आना, कम भूख लगना, अपराध बोध होना, आत्मविश्वास में कमी, थकान महसूस होना और सुस्ती. काम करते वक्त कंस्ट्रेशन नही बनना और बार-बार सुसाइड करने का ख्याल आना.

किन कारणों से होता है डिप्रेशन

तनावग्रस्त जीवन, पढ़ाई का बर्डन, नजदीकी या पारिवारिक रिश्तो का टूटना, नशा करना. इसके साथ ही व्यक्ति की कमजोर फिजिकल और साइकोलॉजिकल स्थिति के कारण भी यह बीमारी होती है. यह पुरुषो की तुलना में महिलाओं को अधिक प्रभावित करती है.
Depression treatment in ayurveda in hindi

डिप्रेशन के पेशेंट को यह आश्वस्त करना चाहिए की डिप्रेशन एक ठीक होने वाली बीमारी है. यदि कोई दो वीक से ज्यादा समय तक दुखी, चिड़चिड़ा रहता है, निजी और सामाजिक मामलो में दिलचस्पी नही ले रहा है, तो उसे मदद की जरूरत है. मदद करते वक्त उसे किसी तरह का निर्देश नही दे.

डिप्रेशन से पीड़ित व्यक्ति के आसपास रहे. उसकी बात सुने और उसके अनुभवो के लिए उसकी आलोचना न करे. जरूरत पड़ने पर मनोचिकित्सक की मदद ले. इसके आलावा योगा, ,मेडिटेशन, आउटडोर और इंडोर गेम्स भी डिप्रेशन से निकालने में मददगार हैं.

0 Response to "डिप्रेशन की पहचान, कारण, क्या करें ayurvedic treatment for depression"

Post a comment

Iklan Atas Artikel

Iklan Tengah Artikel 1

Iklan Tengah Artikel 2

Iklan Bawah Artikel