कुछ लोगो को बस, किसी को कार तो किसी को हवाई सफर के दौरान असहज महसूस होता हे. इसे ट्रेवल सिकनेस या मोशन सिकनेस के नाम से जाना जाता हे. आईये जानते हे सफर के दौरान आने वाली प्रॉब्लम और बचाव के तरीकों के बारे में. 
Safar Me Aane Vali Problems Or Care Tips

सफर में आने वाली प्रॉब्लम
सफ़र के दौरान उबकाई आना, पसीना आना, चक्कर आना, उलटी होना, सिरदर्द होना. यह समस्या सफ़र की शुरुआत से कुछ घंटो या कई बार 2 से 4 दीन तक महसूस होती हे.

बचाव के तरीके

1. खाली पेट मोशन सिकनेस के लक्षण और भी गंभीर हो सकते हे इसलिए यह जरुरी हे की यात्रा करने से पहले कुछ हल्का नाश्ता करे जो आसानी से पच जाएँ.

2. सफर लंबा हे तो थोड़ी-थोड़ी देर में जूस, पानी ले सकते हे और खाने में कुछ हल्का ही लेना चाहिए. यात्रा से 24 घंटे पहले मसालेदार खाने से बचना चाहिए. नींद पूरी कर लेना चाहिए.

यह भी पढ़े क्या होता हे सर्च इंजन और कैसे काम करता हे

3. सफर से पहले मोशन सिकनेस से बचने के लिए डॉक्टर की सलाह से दवा ले सकते हे, लेकिन इन दवाइयों का ज्यादा सेवन करने से साइड इफ़ेक्ट भी हो सकते हे, इसलिए इनसे जितना हो सके फायदेमंद हे.

4. कार या बस में सफ़र करते टाइम कोशिस करे की अपना ध्यान बाहर की स्थिर वस्तुओं पर जैसे पेड़, इमारतों आदि पर केन्द्रित रहे. कार या बस की खिड़की थोड़ी खोलकर रखें ताकि आप ताज़ी हवा में सांस ले.

5. ट्रिप के दौरान सुरक्षित जगहों पर ब्रेक लेकर थोडा चलना-फिरना चाहिए. जिस दिशा में जा रहे हे उसकी उलटी दिशा में नहीं बैठना चाहिए.

check que?.ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..