हर कोई Life में सम्मान भरी नौकरी करना चाहता हे. कभी कभी पैसो से ज्यादा लोगो को इज्जत भरी नौकरी प्यारी होती हे. जंहा उनकी जरूरते पूरी होने के साथ-साथ उन्हें प्यार मिले, सम्मान मिले. यह सब होता हे इस हीरे व्यापारी के यंहा. हीरे का यह व्यापारी सच में Real लाइफ हीरो हे. पहली बार किसी बॉस की दरियादिली की कहानी उसके कर्मचारी बता रहे हे.
सावजी ढोलकिया नाम तो सुना ही होगा, नहीं तो अब सुन लो. जिन्होंने अपने बेटे को पैसो की अहमीयत समझाने के लिए 7000 रुपये देकर घर से बाहर भेजा था और कर्मचारियों को कई फ्लैट्स और गाड़ियां गिफ्ट में दी थी. इस बार इन्होंने अपनी टीम के 300 कर्मचारियों को परिवार सहित 10 दिन के लिए उत्तराखंड टूर पर भेजा. सबसे हैरानी वाली बात ये है कि ये पेड छुट्टी है.

हीरे का कारोबार हे
सवजी ढोलकिया हीरे का कारोबार करते हे. उनका कारोबार सूरत और मुंबई में श्री रामकृष्ण एक्सपोर्ट्स के नाम से चलता हे.

90 लाख में बुक की ट्रेन
15 दिन की छुट्टी की घोषणा करने के बाद सावजी ने सभी कर्मचारियों के लिए ट्रेन में एसी टिकटें बुक कीं. इस ट्रिप के लिए उन्होंने एक ट्रेन ही बुक कर ली, जिसके कारण उन्होंने करीब 90 लाख रुपये खर्च कर दिए.

दिखावा नहीं प्रेम हे
यह कोई दिखावा नहीं बल्कि एक बॉस का उनके कर्मचारियों के प्रति प्रेम हे. कम्पनी के कर्मचारी कहते हे की हम मालिक को “काका-जी” के नाम से पुकारते हे. वे हमारे साथ परिवार के सदस्यों जैसा व्यवहार करते हे और साथ में सफर भी करते हे. यह भी पढ़े स्वास्थ्य सेवाओं सम्बधी जानकारी के लिए यंहा क्लिक करें

सच में ऐसा बॉस मिल जाये तो मज़ा ही आ जाये. कहते हे ना की गुलाफ की खुशबु का आज तक कोन रोक पाया हे, वो तो हर जगह महकेगी.

Que.Ans

इस कमेंट्स बॉक्स में आपके मन में कोई सवाल हो तो पूछे उचित जवाब देने का हमारा प्रयास रहेगा..